ताज़ा खबर
 

कुलभूषण जाधव पर पाकिस्तान का झूठ जारी- इमरान के विदेश मंत्री ने कहा- है पुख्ता सबूत, केस जीतेंगे

पाकिस्तान में नई सरकार बनने के बाद भी पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव पर झूठ जारी है। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने दावा किया है कि उनके पास कुलभूषण जाधव के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं और अंतरराष्ट्रीय अदालत (आईसीजी) में वह केस जीतेंगे।

भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव (PTI File Photo)

पाकिस्तान में नई सरकार बनने के बाद भी पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव पर झूठ जारी है। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने दावा किया है कि उनके पास कुलभूषण जाधव के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं और अंतरराष्ट्रीय अदालत (आईसीजी) में वह केस जीतेंगे। गुरुवार (23 अगस्त) को मीडिया से बात करते हुए कुरैशी ने कहा, “हमारे पास जाधव के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं हमें उम्मीद है कि अंतरराष्ट्रीय अदालत में मुकदमा जीतेंगे।” उन्होंने आगे कहा, ”हम अंतरराष्ट्रीय अदालत के समक्ष अपना रुख पेश करने के लिए सबसे असरदार तरीक से कोशिश करेंगे।” पाकिस्तानी विदेश मंत्री का यह बयान आईसीजे के द्वारा जाधव के मामले की सुनवाई फरवरी 2019 में करने की घोषणा के ठीक एक दिन बाद आया। कुरैशी ने कहा, ”हम आगे की कार्रवाई प्रधानमंत्री इमरान खान के नेतृत्व में करेंगे। हमें कुछ कड़े फैसले लेने पड़ेंगे इसके लिए मुल्क को तैयार रहना चाहिए।”

बता दें कि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को 3 मार्च 2016 को ईरान से अगवा कर गिरफ्तार कर लिया था। पाकिस्तान ने उन पर आरोप लगाया कि वह जासूसी के इरादे से अवैध रूप से ईरान से पाकिस्तान में घुस रहे थे। पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जाधव को मौत की सजा सुनाई थी, जिसके बाद भारत यह मामला अंतरराष्ट्रीय अदालत में ले गया था। आईसीजे की 10 सदस्यीय पीठ ने फैसला आने तक जाधव की फांसी पर रोक लगा दी थी। भारतीय अधिकारियों के मुताबिक पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने ईरान से तब अगवा कर लिया जब वह अपने कारोबार के सिलसिले में वहां थे।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी। (फोटो सोर्स- रॉयटर्स)

पाकिस्तानी समाचार चैनल जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक आईसीजे कुलभूषण के मामले पर एक हफ्ते 19 से 25 फरवरी तक सुनवाई करेगी। पाकिस्तान ने आरोप लगाया है कि जाधव साधारण व्यक्ति नहीं हैं, क्योंकि उन्होंने जासूसी और बलूचिस्तान में नुकसान पहुंचाने के इरादे से देश में प्रवेश किया था। वहीं भारत लगातार जाधव पर लगाए गए सभी आरोपों से इनकार करता आ रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App