ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी सेना, आईबी के पूर्व अफसर ने कहा- नरेंद्र मोदी गुजरात में अपनी हार का सेहरा मेरे सर बांधना चाहते हैं तो स्वागत है

रफीक का कहना है कि वह गुजरात के किसी राजनेता को नहीं जानते। उनका कहना है कि भारत से उनका पारिवारिक रिश्ता तो है, लेकिन वह गुजरात के किसी राजनेता को नहीं जानते।

Author Updated: December 12, 2017 11:45 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स- AP)

पाकिस्तान आर्मी के पूर्व जनरल सरदार अरशद रफीक का कहना है कि वह कोई नहीं होते जो किसी अन्य देश के चुनाव परिणामों को प्रभावित करें। उन्होंने यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान को लेकर कही है जिसमें यह कहा गया था कि गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस पाकिस्तान के साथ मिलकर साजिश रच रही है। पीएम मोदी ने रविवार को अपने चुनावी भाषण में पाकिस्तान के पूर्व जनरल अरशद रफीक के एक फेसबुक पोस्ट की चर्चा की थी, जिसमें रफीक ने कहा था कि अहमद पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बनना चाहिए। इंडियन एक्सप्रेस से की गई खास बातचीत में रफीक ने अहमद पटेल को लेकर किसी भी तरह का पोस्ट लिखने से साफ इनकार किया है। उन्होंने कहा है, ‘…लेकिन अगर मोदी साहब अपनी शिकस्त का सेहरा मेरे सिर पर बांधना चाहते हैं तो उनसा स्वागत है। सरदारों के सिर पर हमेशा ही सेहरा बंधा होता है।’

इसके अलावा उन्होंने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधते हुए कहा, ‘हो सकता है कि मोदी साहब गुजरात में हार रहे हों, लेकिन मुझे यह समझ नहीं आ रहा कि इन सबके लिए मैं कैसे जिम्मेदार हूं। अगर वह हारते हैं तो यह गुजरात की जनता का फैसला होगा।’ वहीं रफीक का कहना है कि वह गुजरात के किसी राजनेता को नहीं जानते। उनका कहना है कि भारत से उनका पारिवारिक रिश्ता तो है, लेकिन वह गुजरात के किसी राजनेता को नहीं जानते। उन्होंने कहा, ‘मैं कभी किसी कांग्रेसी से नहीं मिला हूं। मेरे दोस्तों ने मुझे कुछ तस्वीरें भेजी, जिसके माध्यम से मुझे इस विवाद का पता चला, लेकिन जहां से मैं देख रहा हूं मैं कहूंगा कि वह कौन सा एटम बम था जिसकी वजह से मोदी मेरे ऊपर ये सारे आरोप लगा रहे हैं।’

क्या कहा था पीएम मोदी ने?

रविवार की रैली में पीएम मोदी ने कहा था, ‘पाकिस्तान के पूर्व आर्मी डायरेक्टर जनरल ने कहा था कि अहमद पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बनना चाहिए… क्यों? आप पाकिस्तान में हैं। आप क्यों हमारे देश के मामलों में रुचि ले रहे हैं?’ मोदी ने कहा, “भाइयों और बहनों, क्या यह खतरे का संकेत नहीं है? यह सब और अय्यर के आवास पर बैठक। क्या है यह सब? मेरे दोस्तों, आपको मुझसे वादा करना होगा कि आप अहमदाबाद के सभी बूथों पर कांग्रेस को जड़ से उखाड़ फेकेंगे और भाजपा को भारी अंतर से जीत दिलाएंगे।”

इसके अलावा रविवार को पालनपुर में चुनावी प्रचार के दौरान मोदी ने मणिशंकर अय्यर के दिल्ली स्थित घर पर हुई बैठक के बारे में बात करते हुए मोदी ने कहा था कि ‘गुजरात चुनाव में पाकिस्तान की दखलअंदाजी हो रही है।’ उन्होंने कहा था कि ‘कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने अय्यर के घर पाकिस्तान के नेताओं से मुलाकात की थी और अगले दिन ही अय्यर ने अपने एक बयान में मुझे नीच कह दिया था।’ पीएम ने यह भी कहा था कि ‘क्या आपको ऐसी घटनाओं पर शक नहीं होता। यह बहुत ही गंभीर मामला है क्योंकि इस बैठक के बाद ही गुजरात के लोगों, पिछड़ी जातियों, गरीबों और मोदी का अपमान किया गया।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ADR की रिपोर्ट: गुजरात चुनाव में मर्डर-किडनैप करने वालों की मौज, मैदान में 14 फीसदी दागी उम्मीदवार
2 लेफ्ट दलों का निशाना- ‘पाक साजिश’ का शोर मचाने से बेहतर काम पर ध्यान दें पीएम मोदी
3 ओवैसी का निशाना- कांग्रेसियों ने किया है देशद्रोह तो पीएम मोदी क्यों नहीं लगवाते रासुका?