ताज़ा खबर
 

अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी में शर्म से बचने के लिए पाकिस्तान ने कहा-हमारी चौकियों पर नहीं हुआ कोई हमला

मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया, ‘‘नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी चौकी को नष्ट करने और एलओसी के पास आम लोगों पर पाकिस्तानी सेना द्वारा गोलीबारी किए जाने के भारतीय दावे गलत हैं।’’

Author May 23, 2017 22:13 pm
भारतीय सेना द्वारा पेश किए गए वीडियो का दृश्य़।

पाकिस्तान की सेना ने मंगलवार (23 मई) को भारत के उस दावे को ‘गलत’ करार दिया जिसमें कहा गया है कि भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर ताबड़तोड़ गोले दाग कर नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की एक चौकी को ध्वस्त कर दिया। इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस :आईएसपीआर: के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया, ‘‘नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी चौकी को नष्ट करने और एलओसी के पास आम लोगों पर पाकिस्तानी सेना द्वारा गोलीबारी किए जाने के भारतीय दावे गलत हैं।’’नयी दिल्ली में सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने आज कहा कि हाल में इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया, क्योंकि पाकिस्तानी चौकियों से भारत में घुसपैठ की मदद की जा रही थी। अतिरिक्त महानिदेशक :लोक सूचना: मेजर जनरल अशोक नरूला ने हमले का एक वीडियो जारी किया गया है ।बता दें कि भारत ने मंगलवार को कहा कि नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तानी अड्डों पर भारत ने जोरदार कार्रवाई की है। इससे पाकिस्तान की कई चौकियों को नुकसान पहुंचा है।

सबसे अहम बात ये है कि भारत की ओर से ये कार्रवाई देश के दो सैनिकों के सिर काटे जाने के लगभग 9 दिन बाद की गई है। सेना ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें पाक चौकियों पर घनघोर बमबारी दिखाई दे रही है। टीवी चैनल की रिपोर्ट्स के मुताबिक सेना ने इस कार्रवाई में रॉकेट लॉन्चर, एंटी टैंक मिसाइल और स्वचालित हथियारों का इस्तेमाल किया।रक्षा मंत्री ने कहा कि सरकार सेना की इस कार्रवाई की समर्थन करती है और बॉर्डर पर शांति का मौहाल बनाने के लिए दुश्मनों को जवाब देना जरूरी है। रक्षा मंत्री के मुताबिक एलओसी पर मौजूद पाक पोस्ट द्वारा आतंकियों को घुसपैठ में मदद की जाती है। इसलिए भारतीय सेना ने इन चौकियों को नेस्तानाबूद कर दिया।  हालांकि इंडियन आर्मी द्वारा वीडियो जारी किये जाने के बावजूद भी पाकिस्तान इस कार्रवाई से इनकार कर रहा है। पाकिस्तानी सेना ने महज एक ट्वीट कर भारत के दावे का खंडन किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App