ताज़ा खबर
 

71 की जंग के गवाह रहे मोर्चों पर पाकिस्‍तान ने बना डाले 180 बंकर, हैलिपैड, चीनी सेना भी मौजूद

ये बंकर जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर और श्रीगंगानगर के करीब डेढ़ किलोमीटर इलाके में बनाए गए हैं।

राजस्‍थान के बॉर्डर पर ऐसे बंकर बना रहा है पाकिस्‍तान।

पाकिस्तान ने राजस्थान बॉर्डर पर 180 पक्के बंकर बना लिए हैं। इंडिया टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्‍तान अभी 100 और बंकर बनाने की तैयारी में जुटा है। ये बंकर जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर और श्रीगंगानगर के पास बनाए गए हैं। भारत ने पाकिस्तान की इस हरकत पर कड़ी आपत्ति जताई है। रक्षा सूत्रों का कहना है कि इस क्षेत्र में कुछ महीने पहले चीन और पाकिस्‍तान ने संयुक्‍त सैन्‍य अभ्‍यास किया था।

जानकारी के मुताबिक, राजस्थान बॉर्डर पर पाकिस्‍तान सिर्फ बंकर ही नहीं बल्कि एम्यूशन डंप, हैलिपैड, पक्की सड़कें, वाटर टैंक, सीमा चौकी समेत कई प्रकार के कंस्ट्रक्शन भी कर रहा है। ये बंकर जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर और श्रीगंगानगर के करीब डेढ़ किलोमीटर इलाके में बनाए गए हैं। सीमा सुरक्षा बल ने फ्लैग मीटिंग में इस पर कड़ा एतराज जताया है। आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि पाकिस्तान ने जैसलमेर के किशनगढ़ बल्ज और शाहगढ़ बल्ज क्षेत्र के सामने सीमा पार डेटका टोबा, हरंगवाला, सखीरेवालाखू, डंगाउतक, बचोल, जमेश्वरी, चुरूनपढ़ कुल फकीर इलाकों में बंकर के साथ एम्यूशन डंप, हेलिपैड, पक्की सड़कें, वाटर टैंक, सीमा चौकी भी बना ली हैं।

HOT DEALS
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback
  • Moto C Plus 16 GB 2 GB Starry Black
    ₹ 7095 MRP ₹ 7999 -11%
    ₹0 Cashback

आपको बता दें कि ये वही मोर्चे हैं, जो 1971 में हुई भारत-पाक जंग के गवाह रहे हैं। 71 के युद्ध में भारत ने पाकिस्‍तान को करारी शिकस्‍त दी थी। बीएसएफ के पूर्व डीआईजी भगवतीलाल चौहान ने कहा कि चिंता की बात यह है कि सीमा पर बड़ी संख्या में चीनी सैनिक भी मौजूद हैं। भारतीय खुफिया एंजेसियों को इन इलाकों में सैटेलाइट सिग्नल भी मिले हैं, जो कि चीनी सैनिकों की मौजूदगी की ओर इशारा कर रहे हैं। यही कारण है कि बीएसएफ के डीजी केके शर्मा ने शनिवार को जैसलमेर जिले में सीमा चौकियों का दौरा भी किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App