ताज़ा खबर
 

सर्जिकल स्‍ट्राइक को झुठलाने के लिए पाकिस्‍तानी सेना का नया हथकंडा, प्‍लेन में भरकर मीडियाकर्मियों को पहुंचाया एलओसी

पाकिस्तानी आर्मी शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय और स्थानीय मीडिया को लेकर लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) गया ताकि यह साबित हो सके कि भारत के ओर से कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया गया है।
Author नई दिल्ली | October 2, 2016 16:46 pm
भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को गलत साबित करने के लिए पत्रकारों को एलओसी लेकर पहंची पाकिस्तानी आर्मी (AP Photo)

भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को गलत साबित करने की कोशिश में लगे पाकिस्तान ने अब दूसरा तरीका अपनाया है। डैमेज कंट्रोल करने के लिए पाकिस्तानी आर्मी शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय और स्थानीय मीडिया को लेकर लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) गया ताकि यह साबित कर सके कि भारत के ओर से कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया गया है। इस बात की जानकारी के पाकिस्तान की लोकल मीडिया और इंटरनेशनल मीडिया ने रविवार को दी। पाकिस्तान की ओर से न्यूज एजेंसी एएफपी ने बताया कि पत्रकारों को हवाई यात्रा करा कर एलओसी ले जाया गया। एजेंसी ने पाकिस्तान आर्मी की ओर से पत्रकारों को हवाई सफर कराकर बॉर्डर पर ले जाने को दुर्लभ कदम बताया।

डॉन और द न्यूज इंटरनेशनल के मुताबिक पाकिस्तान के एक प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल असीम बाजवा ने पत्रकारों को बताया कि इन सब के पीछे वजह पूरी दुनिया के सामने यह साबित करना है कि सर्जिकल स्ट्राइक के कोई भी संकेत नहीं मिले हैं और भारत का दावा “सफेद झूठ” है। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान सेना की ओर से 20 मीडिया संगठनों के 40 पत्रकारों के एक ग्रुप को एलओसी पर ले जाया गया है। पत्रकारों को सात में से उन दो जगहों पर ले जाया गया था, जहां भारत की ओर से सर्जिकल स्ट्राइक का दावा किया गया था। ग्रुप को भिंमभेर के बागसर सेक्टर और हॉट स्प्रिंग सेक्टर के मानडोल ले जाया गया। इन जगहों पर पाकिस्तान के दो सैनिको ने अपनी जान गवाई थी।

READ ALSO:  सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद सेना हाइएस्‍ट अलर्ट पर, खेल व टीवी बंद, चार घंटे ही सो रहे हैं जवान

गौरतलब है कि 18 सितंबर को जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना मुख्यालय पर हुए आतंकी हमले में अब तक कुल 20 जवान शहीद हो चुके हैं। इस घटना के बाद पूरे देश में पाकिस्तान के खिलाफ उबाल है। बुधवार देर रात भारत की ओर से आतंकी हमले का बदलना लेने के लिए पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक करके आतंकियों को सफाया किया गया। भारतीय सेना ने बुधवार देर रात पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में घुसकर आतंकियों के लॉन्च पैड तबाह कर दिए। स्पेशल फोर्सेज के कमांडो ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देते हुए PoK में आतंकियों के 7 कैंप तबाह कर दिए। करीब 4 घंटे चले इस ऑपरेशन में 38 आतंकी मारे गए थे। आतंकियों को बचाने के चक्कर में इस स्ट्राइक में 2 पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए। सर्जिकल अटैक के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है। सेना ने जम्मू-कश्मीर, पंजाब में इंटरनेशनल बॉर्डर से सटे हुए गांवों को खाली करा लिया गया है।

READ ALSO: पाकिस्तानी ने कहा- भारत पर न्यूक्लियर अटैक हुआ तो खत्म हो जाएगा पाकिस्तान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.