ताज़ा खबर
 

संसद में अब केंद्र सरकार से होगा पी चिदंबरम का आमना-सामना, बेटे कार्ति बोले- गुरुवार को पापा जाएंगे पार्लियामेंट

चिदंबरम गुरुवार को संसद में नजर आएंगे। 74 वर्षीय चिदंबरम राज्यसभा सांसद हैं। कोर्ट ने उन्हें 2 लाख रुपए के निजी मुचलके पर रिहा किया है।

संसद में सरकार से होगा पी चिदंबरम का आमना-सामना। फोटो: इंडियन एक्सप्रेस

आईएनएक्स मीडिया केस में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद शाम को वह जेल से 106 दिन बाद छूटे। उन्होंने मीडिया से कहा, “मैं कल प्रेस कॉन्फ्रेंस करूंगा। जेल से बाहर आने पर मैं खुश हूं कि मैं खुली हवा में 106 दिन बाद सांस ले रहा हूं।” अब वह गुरुवार को संसद में नजर आ सकते हैं। इसकी पुष्टि उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने की है। हिंदुस्तान टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक कार्ति ने कहा है कि पी. चिदंबरम संसद के मौजूदा सत्र में हिस्सा लेंगे।

वह गुरुवार को संसद में नजर आएंगे। 74 वर्षीय चिदंबरम राज्यसभा सांसद हैं। कोर्ट ने उन्हें 2 लाख रुपए के निजी मुचलके पर जमानत दी है। जमानत मिलने के बाद चिंदबरम दिल्ली की तिहाड़ जेल से बाहर आ गए हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इस मामले में उनके खिलआफ केस दर्ज किया था और वह 105 दिन से हिरासत में थे।

बता दें कि बुधवार को हुई सुनवाई के दौरान जस्टिस आर बनुमाथी की अध्यक्षता वाली तीन जजों की बेंच ने पूर्व वित्त मंत्री को जमानत तो दे दी लेकिन उन्हें देश से बाहर जाने से मना किया है। कोर्ट ने कहा है कि निचली अदालत की अनुमति के बिना देश से बाहर नहीं जा सकेंगे। इसके साथ ही कोर्ट ने उनसे यह भी कहा है कि वह इस मामले पर मीडिया से कोई बातचीत नहीं करेंगे।

कोर्ट ने दिल्ली हाई कोर्ट के उस फैसले को निरस्त किया जिसमें कहा गया था कि चिदंबरम जेल से बाहर आने पर गवाहों को प्रभावित और सबूतों से छेड़छाड़ कर सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने इस पर असहमति जताते हुए कहा कि  न तो गवाहों को प्रभावित करने का प्रयास करेंगे और न ही सबूतों से छेड़छाड़ करेंगे।

बता दें कि आईएनएक्स मीडिया घोटाला मामले में सीबीआई और ईडी का आरोप है कि 13 मार्च, 2007 को आईएनएक्स मीडिया ने फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) से 4.62 करोड़ रुपए के विदेशी निवेश की अनुमति मांगी। यह विदेशी निवेश मॉरिशस की तीन कंपनियों से आना था। इसके अलावा आईएनएक्स मीडिया में अन्य स्त्रोतों से डाउनस्ट्रीम इन्वेस्टमेंट की भी अनुमति मांगी गई।

सीबीआई का आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया ने इस 4.62 करोड़ रुपए के विदेशी निवेश की मंजूरी लेकर 305 करोड़ रुपए का विदेशी निवेश लिया। इसके साथ ही आईएनएक्स मीडिया ने अपनी सहयोगी कंपनियों से 26 प्रतिशत डाउनस्ट्रीम इन्वेस्टमेंट भी लिया।

Next Stories
1 ‘Swachh Bharat’ के 4 साल बाद भी 38% सरकारी अस्पतालों में स्टाफ टॉयलेट नहीं, पर केंद्र बता रहा सबसे सफल योजना
2 Indian Navy Day: अमेरिका के झंडे वाले जहाज की तस्वीर के साथ मनोज तिवारी ने दी नेवी दिवस की बधाई, होने लगे ट्रोल
3 दौड़तेे हुए संसद पहुंचे रेल मंत्री पीयूष गोयल, ट्विटर पर लोग लेने लगे मजे
ये पढ़ा क्या?
X