ओवैसी का ऐलान- योगी को हराने के लिए 7 को करेंगे फैजाबाद का दौरा, यूजर्स बोले- अब ये है श्रीराम की अयोध्या

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘मैं 7 सितंबर को फैजाबाद और 8 सितंबर को सुल्तानपुर और 9 सितंबर को बाराबंकी का दौरा करूंगा। आने वाले दिनों में हम योगी सरकार को हराने के लिए आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के और क्षेत्रों का दौरा करेंगे।’

asaduddin owaisi, AIMIM
AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी (Photo- Indian Express)

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि वे अगले साल होने वाले यूपी चुनाव के मद्देनजर 7 सितंबर को फैजाबाद का दौरा करेंगे। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘मैं 7 सितंबर को फैजाबाद और 8 सितंबर को सुल्तानपुर और 9 सितंबर को बाराबंकी का दौरा करूंगा। आने वाले दिनों में हम योगी सरकार को हराने के लिए आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के और क्षेत्रों का दौरा करेंगे।’

इस खबर के सामने आते ही ट्विटर पर यूजर्स ने रिएक्ट करना शुरू कर दिया। एक यूजर(@Beahumane1st) ने लिखा, ‘ओवैसी यूपी योगी को हराने नहीं जिताने जा रहे हैं। यूपी के मुस्लिमों को ओवैसी को जवाब देना चाहिए।’ वहीं, (@SurrbhiM) ने लिखा, ‘आप योगी को हराने जा रहे हैं या उनकी मदद करने जा रहे हैं?’ सबसे मजेदार जवाब देते हुए (@bhaiyafromup) ने लिखा, ‘चचा,अब फैजाबाद जैसा कुछ नहीं है,अब केवल प्रभु राम की अयोध्या है।’

वहीं आज समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी के सहयोगी दलों को न्याय, सम्मान और सहभागिता दिलाने का आश्वासन देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि दलितों और पिछड़ों को जो सम्मान भाजपा ने नहीं दिया वह सपा देगी। अखिलेश ने अपने सहयोगी दल जनवादी पार्टी सोशलिस्ट की ‘जनक्रांति यात्रा’ के समापन अवसर पर यहां कहा कि वह अपने सहयोगी दलों को भरोसा दिलाते हैं कि उनके लोगों को जो सम्मान भाजपा ने नहीं दिया वह समाजवादी पार्टी दिलाएगी।

उन्होंने कहा, “आपके समाज को अगर सम्मान देने की बात होगी तो सपा कभी पीछे नहीं हटेगी। हम भरोसा दिलाते हैं कि आपके साथ जो अन्याय हुआ है वह हम नहीं होने देंगे।’ अखिलेश ने जनक्रांति यात्रा के समापन पर बधाई देते हुए दावा किया, “यह यात्रा जिन-जिन जिलों से निकली है, वहां पर भाजपा का सफाया हो जाएगा। भाजपा ढूंढेगी कि उसके प्रत्याशी कहां हैं। इसीलिए हमने नारा दिया है, अबकी बार 400 पार।”

बता दें कि आज उत्‍तर प्रदेश के उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अगले वर्ष की शुरुआत में राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में 2017 की तरह भाजपा के पक्ष में चुनाव परिणाम आने का दावा करते हुए कहा है कि 2022 के विधानसभा चुनाव में 2024 के लोकसभा चुनाव की लड़ाई होने वाली है क्योंकि ‘‘दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर जाता है।” उत्तर प्रदेश के चुनाव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में ही लड़े जाने की बात कहते हुए उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि चुनाव बाद मुख्यमंत्री का फैसला केंद्रीय नेतृत्व और निर्वाचित विधायक करेंगे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।