ताज़ा खबर
 

PAK ने अक्टूबर तक 2 हजार से अधिक बार किया सीजफायर उल्लंघन, सेना ने जवाब में मार गिराए 150 आतंकी!

भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक 10 अक्टूबर 2019 तक पाकिस्तान ने 2317 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। वहीं सेना ने अलग-अलग अभियानों में एलओसी और भीतरी इलाकों में 147 आतंकियों को मौत के घाट उतारा है।

indian Army, News in hindi, भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक 10 अक्टूबर 2019 तक पाकिस्तान ने 2317 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है।(फाइल फोटो)

पाकिस्तान लगातार सीजफायर उल्लंघन कर रहा है और अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया है। सेना ने अक्टूबर के महीने में लगभग 150 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया।

भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक 10 अक्टूबर 2019 तक पाकिस्तान ने 2317 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। वहीं सेना ने अलग-अलग अभियानों में एलओसी और भीतरी इलाकों में 147 आतंकियों को मौत के घाट उतारा है।

वहीं, भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक एक और आंकड़ा सामने आया है जिसमें कहा गया है कि साल 2018 में 1629 सीजफायर उल्‍लंघन के मामले सामने आए थे और इस दौरान 254 आतंकवादियों को मार गिराया गया था। इसमें एक विदेशी आतंकी कमांडर भी शामिल था। गौरतलब है कि शुक्रवार (11 अक्टूबर,2019) यानी  आज सुबह पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर में राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। साथ ही पाकिस्तानी आर्मी के द्वारा गोले भी फेंके गए।

सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में नियंत्रण रेखा के समीप विभिन्न प्रशिक्षण शिविरों में 500 से अधिक आतंकवादी जम्मू कश्मीर में घुस जाने के अवसर की फिराक में बैठे हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि 200 से 300 आतंकवादी पाकिस्तान के सहयोग से इस क्षेत्र को अशांत बनाये रखने के लिए जम्मू कश्मीर के अंदर सक्रिय हैं।सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंहने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘जहां तक जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की बात है तो बाहर से आये 200-300 आतंकवादी अपने काम में लगे हुए हैं।’’

सिंह ने जम्मू कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों और देश में घुसपैठ करने के लिए पीओके में तैयार बैठे आतंकवादियों की संख्या के बारे में पूछे गये सवालों के जवाब में यह बात कही। उन्होंने कहा, ‘‘ इसी तरह, करीब 500 पीओके में आतंकवादी प्रशिक्षण शिविरों में डेरा डाले हुए हैं और जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करने के लिए तैयार बैठे हैं।’’ उन्होंने कहा कि आतंकवादियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के हिसाब से यह संख्या घटती बढ़ती रहती है।सिंह ने कहा, ‘‘ उनकी संख्या भले जो भी हो, हम उन्हें रोकने और उनका सफाया करने में सक्षम हैं ताकि इस क्षेत्र में शांति एवं सामान्य स्थिति बनी रहे।’’

Next Stories
1 आवारा गायों का फोटो शेयर कर बोले दिग्विजय सिंह, ‘कहां हैं गोरक्षक’; CM कमलनाथ को भी दिया चैलेंज
2 महाबलीपुरम आए नरेंद्र मोदी के ‘चीनी दोस्त’, वेष्टी में PM ने कराया ऐतिहासिक सैर, साथ पीया नारियल पानी
3 Indian Railways लगा रहा Health ATM, 10 मिनट में मिलेंगी 16 टेस्ट्स की रिपोर्ट; जानिए रेट और बाकी चीजें
आज का राशिफल
X