ताज़ा खबर
 

OROP: पूर्व सैनिकों ने रैली निकाल कर मांगा ‘सच्चा इंसाफ’

सरकार द्वारा घोषित ‘वन रैंक, वन पेंशन’ योजना को नामंजूर करने वाले सैंकड़ों पूर्व सैनिकों ने आज यहां ‘ईमानदारीपूर्ण और सच्चे इंसाफ’ की मांग करते हुए ‘सैनिक एकता’ रैली निकाली..

Author नई दिल्ली | Updated: September 12, 2015 4:24 PM
यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन मूवमेंट (यूएफईएसएम) के साझा बैनर तले पूर्व सैनिकों के कई समूह देशभर से यहां आकर ओआरओपी को लागू करने की मांग को लेकर करीब तीन महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं। (पीटीआई फाइल फोटो)

सरकार द्वारा घोषित ‘वन रैंक, वन पेंशन’ योजना को नामंजूर करने वाले सैंकड़ों पूर्व सैनिकों ने आज यहां ‘ईमानदारीपूर्ण और सच्चे इंसाफ’ की मांग करते हुए ‘सैनिक एकता’ रैली निकाली जबकि पूर्व सैन्यकर्मियों के कुछ समूहों ने खुद को इस रैली से दूर रखा। यहां जंतर मंतर पर सुबह दस बजे शुरू हुई रैली में देश के विभिन्न हिस्सों से आए पूर्व सैनिकों ने भाग लिया।

यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन मूवमेंट (यूएफईएसएम) के साझा बैनर तले पूर्व सैनिकों के कई समूह देशभर से यहां आकर ओआरओपी को लागू करने की मांग को लेकर करीब तीन महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं। हालांकि इस सप्ताह इस मोर्चे में दरार नजर आयी जब विभिन्न धड़ों ने एक दूसरे के खिलाफ आरोप प्रत्यारोप लगाना शुरू कर दिया।

पूर्व सैनिकों का एक धड़ा ‘सैनिक एकता’ रैली निकाले जाने के खिलाफ था जबकि दूसरे समूहों का मानना था कि सरकार ने उन्हें निराश किया है जिसने पिछले शनिवार को ओआरओपी की घोषणा की थी।

मोर्चे के एक महत्वपूर्ण सदस्य लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) बलबीर सिंह ने आपसी समन्वय के अभाव का जिक्र करते हुए बुधवार को अपने समूह इंडियन एक्स सर्विस लीग के इस मंच से बाहर होने की घोषणा की थी।

मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) सतबीर सिंह समेत आंदोलन के कई अन्य प्रतिभागियों ने सरकार द्वारा घोषित ओआरओपी से असहमति जतायी थी और अब उन्होंने सात बिंदुओं पर असहमति नोट रखा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories