ताज़ा खबर
 

ओरओपी आंदोलन: भूख हड़ताल जारी, एक पूर्व सैन्यकर्मी बेहोश हुए, अस्पताल में भर्ती

‘वन रैंक वन पेंशन’ (ओआरओपी) जल्द लागू करने की मांग को लेकर पूर्व सैनिकों के आंदोलन के तहत यहां क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे 70 वर्षीय एक पूर्व सैनिक रविवार को मंच पर बेहोश हो गए...

Author नई दिल्ली | August 31, 2015 9:26 AM
वन रैंक वन पेंशन को लागू कराने के लिए धरने पर बैठे पूर्व सैन्यकर्मी (पीटीआई फाइल फोटो)

‘वन रैंक वन पेंशन’ (ओआरओपी) जल्द लागू करने की मांग को लेकर पूर्व सैनिकों के आंदोलन के तहत यहां क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे 70 वर्षीय एक पूर्व सैनिक रविवार को मंच पर बेहोश हो गए जिसके बाद उन्हें तत्काल सेना के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी स्थिति स्थिर बतायी गई है।

यह घटना ऐसे समय हुई है, जब पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन 77वें दिन में प्रवेश कर गया है। हवलदार बाल सिंह को तब आर्मी रिसर्च एंड रेफ्रल अस्पताल पहुंचाया गया, जब उनकी तबीयत खराब हो गई और वे बेहोश हो गए। पूर्व सैनिकों ने बताया कि उनकी स्थिति अब स्थिर है।

यह घटना पूर्व सैनिकों की ओर से राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को वह पत्र लिखने के एक दिन बाद हुई है, जिसमें कहा गया था कि अगर कोई अप्रिय घटना होती है उसके लिए वह और सरकार जिम्मेदार होंगे।

सरकार ने शनिवा की रात कहा कि उसने ओआरओपी लागू करने में आ रही अड़चनों को आंदोलनकारी पूर्व सैनिकों के साथ बातचीत कर काफी हद तक दूर कर लिया है। सरकार ने यद्यपि इस जटिल मुद्दे पर कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया। पूर्व सैनिकों के प्रतिनिधियों ने रविवार को दिन में सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग से उनके आवास पर मुलाकात की।

इंडियन एक्स-सर्विसमेन मूवमेंट के अध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) बलबीर सिंह ने कहा, ‘वह एक नियमित बैठक थी और कुछ नहीं। हमने उनसे उनके आवास पर मुलाकात की।’ पूर्व सैनिकों के प्रदर्शन के 77वें दिन दिल्ली से हार्ले डेविडसन बाइकरों का एक समूह पूर्व सैनिकों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए रविवार को आंदोलन स्थल पर पहुंचा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App