ताज़ा खबर
 

तर्कों पर कमजोर, हंगामे में अव्वल विपक्ष: जेटली

केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज और भाजपा शासित दो राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बचाव में मजबूती के साथ सामने आते हुए सरकार ने इनके खिलाफ जांच की विपक्ष...

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली (PTI Photo)

केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज और भाजपा शासित दो राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बचाव में मजबूती के साथ सामने आते हुए सरकार ने इनके खिलाफ जांच की विपक्ष की मांग को ठुकरा दिया और कहा कि उन्होंने कोई कानून नहीं तोड़ा है। विपक्ष इन मुद्दों पर संसद को बाधित कर रहा है। जेटली ने विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि वह तर्कों पर कमजोर और हंगामे में अव्वल है।

उन्होंने पत्रकारों से कहा कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भाजपा संसदीय दल की बैठक में उन्हें व्यापक तर्क बताए हैं और पार्टी चाहती है कि वे इन्हें देश के समक्ष रखें। विपक्ष पूर्व आइपीएल प्रमुख ललित मोदी के मुद्दे को लेकर सुषमा के इस्तीफे की मांग कर रहा है। लेकिन जाहिर सी बात है कि विपक्ष तर्कों पर कमजोर है और हंगामा करने में मजबूत। उन्होंने कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर आरोप लगाया कि उनकी मुद्दे पर चर्चा कराने में रुचि नहीं है।

जेटली ने कहा कि स्वराज और अन्य के इस्तीफे की मांग करने वाले विपक्ष ने उनके खिलाफ लगे आरोपों की जांच की मांग की। विपक्ष पर हमला तेज करते हुए जेटली ने कहा कि जांच तब होती है जब कानून के किसी प्रावधान का उल्लंघन किया गया हो। हमारी बार-बार की अपील के बावजूद कोई यह बता पाने में सक्षम नहीं है कि कानून के किस प्रावधान का उल्लंघन हुआ है।

मुद्दे पर बहस की सरकार की इच्छा दोहराते हुए जेटली ने कहा कि पूरे देश को मामले के तथ्यों का पता चलना चाहिए। लोक कल्याण के कई अहम मुद्दे हैं। कई कानून पारित किए जाने हैं। उन पर बहस होनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App