ताज़ा खबर
 

रविवार को कोरोना के 1.52 लाख मामले, तमिलनाडु में 24 घंटे में 28,864 व कर्नाटक में 20,378 लोग संक्रमित

महाराष्ट्र में 18,600, आंध्र प्रदेश में 13,400, पश्चिम बंगाल में 11,284, ओड़ीशा में 9,541, असम में 3,245, पंजाब में 2,627, राजस्थान में 2,298, जम्मू कश्मीर में 2,256, उत्तर प्रदेश में 1,908 नए केस आए

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में COVID-19 Vaccine पाने के लिए अपनी-अपनी बारी का इंतजार करते लाभार्थी। (फोटोः पीटीआई)

देश में कोरोना विषाणु संक्रमण के प्रतिदिन दर्ज होने वाले मामलों में लगातार कमी दर्ज की जा रही है। रविवार को रात ग्यारह बजे तक 34 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना के 1,52,359 नए मामले दर्ज किए गए। इस दौरान 3,124 लोगों की मौत संक्रमण से हुई। ये आंकड़े राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य विभागों की ओर से जारी किए गए।

देश में रविवार को सबसे अधिक कोरोना के मामले तमिलनाडु में दर्ज किए गए। तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में कोरोना के 28,864 नए मामले सामने आए जबकि 493 लोगों की मौत हुई। तमिलनाडु के बाद कर्नाटक में 20,378, केरल में 19,894, महाराष्ट्र में 18,600, आंध्र प्रदेश में 13,400, पश्चिम बंगाल में 11,284, ओड़ीशा में 9,541, असम में 3,245, पंजाब में 2,627, राजस्थान में 2,298, जम्मू कश्मीर में 2,256, उत्तर प्रदेश में 1,908, गुजरात में 1,871, तेलंगाना में 1,801, छत्तीसगढ़ में 1,655, मध्य प्रदेश में 1,476, बिहार में 1,475, हरियाणा में 1,452, उत्तराखंड में 1,226, मणिपुर में 1,032, दिल्ली में 946, पुदुचेरी में 930, हिमाचल प्रदेश में 861, त्रिपुरा में 854, मेघालय में 742, झारखंड में 687, गोवा में 645, अरुणाचल प्रदेश में 461, मिजोरम में 329, लक्षद्वीप में 297, सिक्किम में 264, नगालैंड में 192, चंडीगढ़ में 182 और लद्दाख में 138 नए मामले सामने आए।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि देश ने कोविड-19 की पहली लहर के खिलाफ पूरे हौसले से लड़ाई लड़ी थी और अब दूसरी लहर में भी वह मजबूती से उसका मुकाबला कर रहा है। मास्क, उचित दूरी का पालन और टीकाकरण को बचाव का सही उपाय बताते हुए उन्होंने विश्वास जताया कि भारत इस बार भी महामारी पर विजय हासिल करेगा।

केंद्र में भाजपा नीत सरकार की सातवीं वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा और विकास से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर उठाए गए कदमों का उल्लेख किया और कहा कि सात साल में भारत ने किसी के दबाव में आए बगैर अपने संकल्पों से कदम उठाया और देश के खिलाफ साजिश करने वालों को मुंहतोड़ जवाब
दिया। आकाशवाणी पर अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ की 77वीं कड़ी में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जहां कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है वहीं हाल के दिनों में उसे विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं का भी सामना करना पड़ा है।

Next Stories
1 दिल्ली : पाबंदियों में आज से कुछ ढील, कारखाने खोलने और भवन निर्माण स्थल पर काम की इजाजत
2 IMA के मानहानि दावे पर बोले रामदेव- इनकी क्या इज्जत, दावा तो मुझे करना चाहिए था
3 बारहवीं के एग्जाम रद कराने के लिए 521 छात्र पहुंचे सुप्रीमकोर्ट, बोले- प्रक्रिया जीवन के लिए खतरा
ये पढ़ा क्या?
X