ताज़ा खबर
 

‘एक की स्थापना नेहरू ने की थी, दूसरे की राजीव गांधी ने’, CBSE Class 10th Result में बेहतर प्रदर्शन पर बोले लोग

इस साल सबसे अच्छा रिजल्ट केंद्रीय विद्यालय का रहा। इस साल केंद्रीय विद्यालय में पास होने वाले छात्रों का प्रतिशत 99.23 फीसदी रहा, जबकि जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.66 प्रतिशत रहा।

CBSE की कक्षा 10वीं का आज रिजल्ट जारी हो गया है।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) की कक्षा 10वीं का आज रिजल्ट जारी हो गया है। इसके साथ ही सीबीएसई की 10वीं की परीक्षा देने वाले करीब 18 लाख बच्चों का इंतजार भी खत्म हो गया है। इस वर्ष का 10वीं कक्षा में 91.46 प्रतिशत छात्र सफल हुए हैं। इसमें सबसे अच्छा रिज़ल्ट केंद्रीय विद्यालय का रहा।

इसे लेकर सुमित कश्यप नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया है। सुमित ने सभी स्कूलों के छात्रों के सफलता प्रतिशत को शेयर करते हुए लिखा “एक की स्थापना जवाहरलाल नेहरू ने तो दूसरे की स्थापना राजीव गांधी ने की है।” दरअसल इस साल सबसे अच्छा रिजल्ट केंद्रीय विद्यालय का रहा। इस साल केंद्रीय विद्यालय में पास होने वाले छात्रों का प्रतिशत 99.23 फीसदी रहा, जबकि जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.66 प्रतिशत रहा। केंद्रीय विद्यालय की स्थापना देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1963 में की थी। वहीं जवाहर नवोदय की स्थापना 1985 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने की थी।

सुमित कश्यप के इस ट्वीट पर लोगों की प्रतिक्रियाएं भी आई हैं। एक ने लिखा “और मोदीजी ने व्हाट्सऐप यूनिवर्सिटी की स्थापना की है।” एक अन्य यूजर ने लिखा “70 साल में क्या हुआ है यह अब साफ-साफ दिख रहा है। वहीं एक ने लिखा “इस दौरान पीएम वही लोग थे तो स्थापना भी वही करेंगे ना।”

बता दें 10वीं कक्षा के परिणाम में 2019 में भी केंद्रीय विद्यालय नवोदय से आगे रहा था। 2019 में केंद्रीय विद्यालय के 99.47 विद्यार्थी सफल हुए थे और जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.57 फीसदी छात्रों ने सफलता पाई थी। इस साल 10वीं क्लास में लड़कियों का पास प्रतिशत लड़कों से बेहतर रहा है। 10वीं बोर्ड परीक्षा में लड़कियों का पास प्रतिशत 93.31 फीसदी है, जबकि लड़कों का पास प्रतिशत 90.14 फीसदी है. वहीं, ट्रांसजेंडर छात्रों का पास प्रतिशत 78.95 फीसदी है।

इस साल 12वीं के रिजल्ट में भी जवाहर नवोदय विद्यालय का पास प्रतिशत सबसे अच्छा दर्ज किया गया था। जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.70 फीसदी छात्र पास हुए थे। इसके बाद केंद्रीय विद्यालय के 98.62% बच्चे पास हुए थे। प्राइवेट स्कूलों में इस साल सबसे कम स्टूडेंट्स पास हुए हैं. प्राइवेट स्कूलों का पास प्रतिशत 88.22 फीसदी था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Jammu-Kashmir: बारामूला में दिनदहाड़े भाजपा नेता व निगम समिति के उपाध्यक्ष का अपहरण, केंद्र से हस्तक्षेप की अपील
2 CBI के बाद अब ED के निशाने पर बीजेपी नेता मोहित कम्बोज, बैंक ऑफ इंडिया में 67 करोड़ की धोखाधड़ी का केस
3 वित्त मंत्रालय के रवैये की वजह से भारतीय विदेश नीति को लगा झटका, चीन की तरफ मुड़ा ईरान; बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी बोले
राशिफल
X