ताज़ा खबर
 

एक दिन में 15 लाख लोगों को टीके, देश में 24 घंटे में कोरोना विषाणु संक्रमण के 18,327 नए मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार संक्रमण से 108 और लोगों की मौत होने से महामारी से मरने वालों की संख्या 1,57,656 हो गई।

Author नई दिल्ली | March 7, 2021 3:32 AM
Coronavirus, COVID-19 Vaccineदिल्ली में कोरोनावायरस की वैक्सीन लगवाती महिला। ( सोर्स – एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

देश में 24 घंटे में कोरोना विषाणु संक्रमण के 18,327 नए मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,11,92,088 हो गई। 36 दिनों के बाद संक्रमण के ये सर्वाधिक मामले हैं। वहीं दूसरी तरफ देशव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत पांच मार्च को लगभग 15 लाख लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। इसके साथ ही अब तक देश भर में 1.94 करोड़ से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी। लगातार चौथे दिन उपाचाराधीन मरीजों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई। संक्रमण का इलाज करा रहे रोगियों की संख्या अब 1,80,304 हो गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार को जारी आंकड़ों के अनुसार संक्रमण से 108 और लोगों की मौत होने से महामारी से मरने वालों की संख्या 1,57,656 हो गई। इससे पहले 29 जनवरी को 24 घंटे में संक्रमण के 18,855 मामले सामने आए थे, लेकिन उसके बाद प्रतिदिन नए मामलों की संख्या 18 हजार से नीचे ही रही थी। संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,08,54,128 हो गई है और इसी के साथ संक्रमण से ठीक होने की राष्ट्रीय दर 96.98 फीसद हो गई है। संक्रमण से मृत्यु दर 1.41 फीसद है। देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,80,304 है जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.61 फीसद है।

देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू हुआ था। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाने की प्रक्रिया शुरू हुई। अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों का टीकाकरण दो फरवरी से शुरू हुआ। टीके की दूसरी खुराक 13 फरवरी से देना प्रारंभ किया गया जिसमें उन लोगों को टीका दिया गया जिन्होंने पहली खुराक 28 दिन पहले ली थी। अभियान का अगला चरण एक मार्च से शुरू हुआ और इस दौरान 60 साल से अधिक उम्र वाले व पहले से किसी बीमारी से पीड़ित 45 साल की उम्र से अधिक के लोगों को टीका दिया गया।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया कि टीकाकरण अभियान के 49वें दिन (पांच मार्च) कुल 14,92,201 खुराक दी गई। मंत्रालय ने कहा कि इनमें से 11,99,848 लाभार्थियों (स्वास्थ्य कर्मी और अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मी) को 18,333 सत्रों में टीके की पहली खुराक दी गई और 2,92,353 कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी गई। इन लाभार्थियों (11,99,848) में 1,10,857 व्यक्ति 45 से 60 वर्ष की आयु के थे जो पहले से किसी बीमारी से पीड़ित थे। इसके साथ ही 60 वर्ष की आयु से अधिक के 7,61,355 लाभार्थी थे जिन्हें टीका दिया गया। शनिवार सुबह सात बजे तक प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, 3,57,478 सत्रों में टीके की 1,94,97,704 खुराक दी जा चुकी है।

महाराष्ट्र, केरल ,पंजाब, कर्नाटक और तमिलनाडु में तेजी से बढ़े मामले
मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र, केरल ,पंजाब, कर्नाटक और तमिलनाडु में प्रतिदिन संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 24 घंटे में सामने आए मामलों में 82 फीसद मामले इन राज्यों से हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्तूबर को 70 लाख, 29 अक्तूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ के पार चले गए थे।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के अनुसार, देश में अभी तक 22,06,92,677 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है। इनमें से 7,51,935 नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई। संक्रमण से जिन 108 लोगों की मौत हुई है उनमें 53 मरीज महाराष्ट्र के, 16 केरल के और 11 पंजाब के हैं। देश में संक्रमण से अब तक कुल 1,57,656 मौतें हुई हैं, जिनमें महाराष्ट्र से 52,393, तमिलनाडु से 12,513, कर्नाटक से 12,354, दिल्ली से 10,918, पश्चिम बंगाल से 10,275, उत्तर प्रदेश से 8,729 और आंध्र प्रदेश से 7,172 मरीज शामिल हैं।

Next Stories
1 अन्ना हजारे के आंदोलन में RSS-BJP ने किया था समर्थन, आज कांग्रेस किसान आंदोलन को कर रही समर्थन- डिबेट में बोले कांग्रेस प्रवक्ता
2 भाजपा में जाते ही बदले सुवेंदु अधिकारी! बोले- श्यामा प्रसाद मुखर्जी का देश के लिए योगदान, नहीं तो इस्लामिक राष्ट्र होते हम
3 बंगाल चुनाव: कांग्रेस ने 13 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की
ये पढ़ा क्या?
X