ताज़ा खबर
 

संसद परिसर में झाड़ू लगाने पर पूर्व सीएम ने उठाए मंशा पर सवाल, लोगों ने दिए उटपटांग जवाब

परिसर के अंदर एक सड़क को साफ करते हुए हेमा का एक छोटा सा वीडियो सोशल मीडिया पर है, जिसकी काफी आलोचना हो रही है। इसमें बुहारने के दौरान मथुरा की सांसद की झाड़ू जमीन को स्पर्श नहीं कर रही है।

जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला। (फाइल फोटो)

संसद परिसर में चलाए गए स्वच्छता अभियान के तहत सासंद हेमा मालिनी के झाड़ू लगाने लगाने पर नेशनल कांफ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने शनिवार को जमकर तजं कसा। उन्होंने हुए कहा कि संसद परिसर देश में सबसे स्वच्छ जगहों में से एक माना जाती है। वह भी ऐसे समय पर संसद का सत्र चल रहा हो। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट के जरिए ये तंज कसा। बता दें कि हेमा मालिनी सहित भाजपा के कई सांसद संसद में झाड़ू लगाते हुए दिखाई दिए।

उमर ने ट्वीट किया, ‘लेकिन संसद परिसर देश में सबसे साफ-सुथरी जगहों में एक है, इसलिए वे लोग क्या बुहार रहे थे। मैम अपनी अगली तस्वीर से पहले कृप्या एकांत में बुहारने का अभ्यास कीजिए। आपने जो तकनीक अपनाई है, वह मथुरा (या कहीं और) में साफ-सफाई को बेहतर बनाने में ज्यादा योगदान नहीं देगी।’

परिसर के अंदर एक सड़क को साफ करते हुए हेमा का एक छोटा सा वीडियो सोशल मीडिया पर है, जिसकी काफी आलोचना हो रही है। इसमें बुहारने के दौरान मथुरा की सांसद की झाड़ू जमीन को स्पर्श नहीं कर रही है।

उनके इस ट्वीट पर एक यूजर ने कमेंट किया ‘विचार’ एक “जल” की तरह है, आप उसमें ‘गंदगी’ मिला दो तो वह “नाला” बन जाऐगा, अगर उसमें ‘सुगंध’ मिला दो तो वह ‘गंगाजल’ बन जाऐगा। एक अन्य यूजर ने कहा ‘कचड़ा सड़क पर है और झाड़ू संसद में लगाए जा रहे हैं।’ एक यूजर ने कहा ‘तुम लोगों के जैसा कचरा साफ करना है, संसद में भाजपा वाले यही कर रहे हैं।’ एक यूजर ने कहा ‘दिमाग से गंदगी निकालिए सब समझ आ जाएगा। घर की सफाई रोज-रोज की जाती है। खैर आपको क्या मालूम?’

Next Stories
1 चुनाव बाद आर्थिक संकट झेल रही कांग्रेस, सभी इकाई से कॉस्ट कटिंग की अपील, कर्मचारियों की सैलरी भी अटकी
ये पढ़ा क्या?
X