ताज़ा खबर
 

गैंगरेप की शिकार नाबालिग ने पोछा लगाते समय दिया बच्चे को जन्म, अस्पताल में भर्ती होने के बाद हुआ मामले का खुलासा

कमेटी सदस्यों का कहना है कि पीड़िता को प्रेग्नेंसी को कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहा था, ऐसे में अचानक डिलीवरी होना हैरान करने वाला है।

gang rapeगैंगरेप पीड़िता को फिलहाल उसके मां-बाप के पास ओडिशा भेज दिया गया है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

गैंगरेप की शिकार एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़की द्वारा बच्चे को जन्म देने का मामला सामने आया है। गौरतलब है कि पीड़िता को खुद अपनी प्रेग्नेंसी के बारे में जानकारी नहीं थी और पीड़िता ने पोछा लगाते हुए बच्चे को जन्म दिया। जांच में पता चला है कि पीड़िता नाबालिग के साथ 2019 में ओडिशा में गैंगरेप हुआ था, लेकिन उसने इसके बारे में किसी को नहीं बताया। इसके बाद पीड़िता काम के सिलसिले में नवंबर 2019 में बेंगलुरू आ गई और यहां लोगों के घरों में साफ-सफाई का काम करना शुरू कर दिया।

खबर के अनुसार, पीड़िता अपने नियोक्ता के घर में पोछा लगा रही थी, इसी दौरान पीड़िता को अचानक डिलीवरी हो गई। इसके बाद पीड़िता और उसके बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने इस मामले में पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने फिलहाल पीड़िता और उसके बच्चे को एनजीओ की मदद से ओडिशा भेज दिया गया है। कमेटी सदस्यों का कहना है कि पीड़िता को प्रेग्नेंसी को कोई लक्षण दिखाई नहीं दे रहा था, ऐसे में अचानक डिलीवरी होना हैरान करने वाला है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, चाइल्ड वेल्फेयर कमेटी की चेयरपर्सन अंजलि रामान्ना ने बताया कि पीड़िता ने बच्चे को गोद देने से इंकार कर दिया और खुद ही बच्चे की देखभाल करने की बात कही। इस मामले में ओडिशा पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच जारी है। वहीं नाबालिग पीड़िता को नौकरी पर रखने के आरोप में उसके नियोक्ता के खिलाफ भी कार्रवाई हो सकती है।

वहीं बेंगलुरू की एक गाइनेकॉलोजिस्ट ने बताया कि या तो पीड़िता अपनी प्रेग्नेंसी की बात को छिपा रही थी, या फिर उसे अपनी प्रेग्नेंसी के बारे में पता ही नहीं था। डॉक्टर ने कहा कि पीड़िता को डिलीवरी के वक्त पीड़ा हुई होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 इंटरनेट बैन के बीच इनोवेशनः कश्मीरी लड़के ने इस तरह तय किया इंडियन साइंस कांग्रेस तक का सफर
2 कांग्रेस विधायक बोले-विपक्ष के पास संसद में बहुमत नहीं है, CAA को स्वीकार कर लेना ही उचित होगा
3 चीन को पछाड़ भारत का शीर्ष बिजनेस पार्टनर बना अमेरिका, जानें कितना बढ़ा है दोनों देशों के बीच व्यापार
IPL 2020 LIVE
X