ओडिशा: सत्ताधारी बीजेडी विधायक के भाई के घर पर देसी बम से हमला - Odisha BJD MLA Raja Swains brother home is Bombed - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ओडिशा: सत्ताधारी बीजेडी विधायक के भाई के घर पर देसी बम से हमला

कटक के पुलिस डिप्टी कमिश्नर संजीव अरोड़ा ने बताया कि मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति ने विधायक के भाई बीरेंद्र प्रताप स्वैन के घर पर बम फेंका।

Author May 23, 2017 1:42 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर (एजेंसी फोटो)

ओडिशा में सत्ताधारी बीजू जनता दल (बीजेडी) विधायक राजेंद्र प्रताप स्वैन (राजा स्वैन) के भाई के घर पर सोमवार (21 मई) देर रात देसी बम से हमला किया गया। पूर्व मंत्री राजा के भाई का घर कटक में स्थित है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हमले में किसी के घायल होने की खबर नहीं है। पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। राजा स्वैन ओडिशा की अतागढ़ विधान सभा से एमएलए हैं। राजा स्वैन इस सीट से पांच बार विधायकी जीत चुके हैं।

कटक के पुलिस डिप्टी कमिश्नर संजीव अरोड़ा ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि मोटरसाइकिल सवार व्यक्ति ने विधायक के भाई बीरेंद्र प्रताप स्वैन के घर पर बम फेंका। बीजेडी के वरिष्ठ नेता राजा के भाई बीरेंद्र कट के चांदनी चौक इलाके में रहते हैं। अज्ञात व्यक्ति द्वारा फेंका गया बम बीरेंद्र के गैरेज में खड़ी कार के पास फटा। ओडिशा में नवीन पटनायक के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार है।

बीरेंद्र ठेकेदार और कटक सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के चेयरमैन हैं। चेयरमैन के पद पर उनकी नियुक्ति के पीछे उनका विधायक का भाई होना ही मुख्य वजह बतायी मानी जाती है। पुलिस के अनुसार अभी तक हमलावर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है। स्थानीय लालबाग पुलिस थाने में अज्ञत हमलावर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है।

हमलावर का चेहरा घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है। पुलिस के अनुसार बम फेंकने के दौरान उसके चेहरे से नकाब बार-बार गिर जा रहा था। हालांकि युवक ने चेहरा छिपाने की काफी कोशिश की थी।  राजा स्वैन पहली बार 1990 का विधान सभा चुनाव जनता दल के टिकट पर जीते थे। 1995 में भी वो जनता दल के टिकट पर विधायक बने। लेकिन उसके बाद वो बीजेडी में चले गए और साल 2000 में उसी के टिकट पर एमएलए चुने गए।  बीजेपी 1997 में जनता दल से अलग होकर बनी थी।

वीडियो- शहाबुद्दीन की मुश्किल बढ़ी, पत्रकार हत्या मामले में कोर्ट ने जारी किया वारंट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App