ताज़ा खबर
 

स्पीकर ने विधानसभा की मीडिया रिपोर्टिंग पर लगाया बैन, कहा- हंगामा करनेवाले विधायकों का नाम न करें उजागर

सुबह 10.30 बजे जैसे ही प्रश्नकाल शुरू हुआ, सदन में सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया, कांग्रेस और भाजपा के विधायकों ने अध्यक्ष से आग्रह किया कि वे अपने आदेश पर पुर्निवचार करें।

Author Updated: February 15, 2020 5:04 PM
odisha,s n patro,speaker,naveen patnaik, SN Patro odisha, odisha news, media ban, online mediaमीडिया पर लगाए गए प्रतिबंध पर सदन में हंगामा। फोटो: PTI

ओडिशा विधानसभा अध्यक्ष एस एन पात्रा द्वारा मीडिया पर लगाए गए प्रतिबंध को लेकर शनिवार को सदन में हंगामा हुआ जिसके कारण सदन की कार्यवाही को दो बार स्थगित करना पड़ा। सुबह 10.30 बजे जैसे ही प्रश्नकाल शुरू हुआ, सदन में सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया, कांग्रेस और भाजपा के विधायकों ने अध्यक्ष से आग्रह किया कि वे अपने आदेश पर पुर्निवचार करें और मीडिया को सदन में होने वाली गतिविधियों की रिपोर्ट करने दें।

अध्यक्ष द्वारा मांगों पर ध्यान नहीं दिये जाने से सदन में हंगामा जारी रहा, जिससे सदन की कार्यवाही को पहले पूर्वाह्न 11.30 बजे तक, फिर बाद में शाम तीन बजे तक स्थगित किया गया। विधानसभा अध्यक्ष पात्रा ने शुक्रवार को एक फैसले में प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों को निर्देश दिया था कि वे सदन के अंदर हंगामे की रिपोर्ट न करें और विरोध कर रहे सदस्यों के नाम का उपयोग करने पर प्रतिबंध लगा दिया। अध्यक्ष के इस फैसले की भाजपा और कांग्रेस ने कड़ी आलोचना की।

भाजपा के सदन में नेता प्रतिपक्ष प्रदीप कुमार नाइक ने कहा कि विधायकों के लोकतांत्रिक अधिकारों के लिए अध्यक्ष का फैसला ‘‘नुकसानदेह’’ है और उन्होंने इस फैसले को तत्काल वापस लिये जाने की मांग की। कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक एस सलूजा ने कहा, ‘‘लोकतंत्रिक व्यवस्था में विधानसभा अध्यक्ष का यह फैसला स्वीकार्य नहीं है। अगर विधायक विधानसभा में विरोध नहीं करेंगे तो कहां करेंगे? विधानसभा में विरोध विधायकों का लोकतांत्रिक अधिकार है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शपथ लेने से पहले अरविंद केजरीवाल ने मंत्रियों को डिनर पर बुलाया, नई सरकार की रूपरेखा, विकास के एजेंडे पर महामंथन के आसार
2 राजस्थान सीएम बोले- मुझे अपने माता-पिता के जन्मस्थान का पता नहीं, NPR लागू हुआ तो सबसे पहले डिटेंशन सेंटर भेजा जाउंगा
3 अमित शाह से मुलाकात करेंगी शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रही महिलाएं, रविवार को दोपहर 2 बजे पहुंचेंगी गृह मंत्री के आवास
ये पढ़ा क्या?
X