ताज़ा खबर
 

Odd even scheme से ओला, ऊबर जैसी कंपनियों का फायदा, 4 दिन में बिजनेस दोगुना

ऑड-ईवन लागू होने के बाद से ये कंपनियां इतनी उत्साहित हैं कि इन्होंने सोमवार से 50-60 फीसदी तक ज्यादा गाड़ियां सड़कों पर उतारने का फैसला लिया है।

Author नई दिल्‍ली | January 5, 2016 4:48 PM
सोमवार को दिल्‍ली के मेट्रो स्‍टेशनों पर कुछ ऐसा नजारा रहा। यह तस्‍वीर ‏@NaIna0806 ने ट्वीट की है।

दिल्‍ली में ऑड-ईवन लागू हो गया है। छुट्टी की वजह से शुरुआती तीन तो लोगों को ज्‍यादा दिक्‍कत नहीं हुई, लेकिन सोमवार को मेट्रो स्‍टेशनों पर जबर्दस्‍त भीड़ देखने को मिली। लोगों ने टि्वटर कई फोटो शेयर कर दिखाया कि किस तरह वे ऑफिस जा रहे हैं। हालांकि, दिल्‍ली सरकार इसे सफल बता रही है, लेकिन बडी संख्‍या लोग दावा कर रहे हैं, कि वे भीड़ की वजह से पब्लिक ट्रांसपोट में सफर नहीं कर पा रहे हैं और उन्‍हें कैब लेनी पड़ रही है। एक बिजनेस चैनल ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि ऑड-ईवन की वजह से ओला, ऊबर, मेरू और जुगनू जैसे कैब सर्विस प्रोवाइडर्स की चांदी हो गई है।

एप्‍प के जरिए कैब सर्विस देने वाली इन कंपनियों ने सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर और ज्यादा गाड़ियां उतारने का फैसला लिया है, क्योंकि सोमवार से इन्हें मांग में भारी बढ़ोतरी की उम्मीद है। वैसे ऑड-ईवन लागू होने के पहले ही दिन इनके कारोबार में दोगुनी इजाफा हो गया है।

ऑड-ईवन लागू होने के बाद से ये कंपनियां इतनी उत्साहित हैं कि इन्होंने सोमवार से 50-60 फीसदी तक ज्यादा गाड़ियां सड़कों पर उतारने का फैसला लिया है। मोबाइल एप्‍प से ऑटो सर्विस देने वाली कंपनी ‘जुगनू’ ने सोमवार से 3,000 की जगह 10,000 लोगों को ऑटो सर्विस देने का लक्ष्य रखा है। वहीं, मेरू कैब ने तो एक गाड़ी पर दो-दो ड्राइवर रखने का फैसला लिया है। एक दिन के लिए तो दूसरा रात में काम करने के लिए। इतना ही नहीं, मेरू कैब ने नई कारों का ऑर्डर भी दिया है।

जानकारी के मुताबिक, सामान्‍य दिनों में ‘जुगनू’ 3,000 ग्राहकों को सर्विस देती है, लेकिन 1 जनवरी के बाद से वह 6,000 लोगों तक तक सर्विस पहुंचा रही है। इसी प्रकार से दूसरी कंपनियों का कारोबार भी बढ़ा है।

Read Also: 

केजरीवाल के ऑड-ईवन फार्मूले का टि्वटर पर उड़ा मजाक, ट्रेंड में आए Rajiv Chowk और #OddEvenBhaiBhai 

ऑड-ईवन: ईवन नंबर की गाड़ी पकड़े गए बीजेपी MP और पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्‍नर सत्यपाल सिंह

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App