ताज़ा खबर
 

Odd-Even phase 2 शुरू, महिलाओं को छूट में लगाई शर्त, पहले 5 घंटे में काटे गए 511 चालान

इस बार इलेक्शन कमीशन और स्टेट इलेक्शन कमीशन के व्हीकल को भी छूट दी गई है। सीएम की गाड़ी सहित वीआईपी व्हीकल भी ऑड-ईवन के दायरे से बाहर रहेंगे।

Author नई दिल्‍ली | April 15, 2016 15:56 pm
ऑर्ड-ईवन के दूसरे दौर की शुरुआत सरकारी छुट्टी के दिन से हुई है। 15 अप्रैल को राम ननवमी है। ऐसे में इसकी असली परीक्षा सोमवार को होगी।

दिल्‍ली में ऑड-ईवन पार्ट-2 15 अप्रैल से शुरू हो गया। 30 अप्रैल तक चलने वाली इस योजना के पहले दिन शुक्रवार को ऑड नंबर वाली गाड़ियों को ही चलने की इजाजत है। शुक्रवार को पहले दिन शुरू के पांच घंटों में 511 चालान काटे गए। इस बार दो नई कैटेगरी में छूट दी गई है और महिलाओं को छूट देने का तरीका भी बदल दिय गया है। पिछली बार महिलाओं को छूट दी गई थी, लेकिन इस बार महिलाओं को छूट तब तक ही है, जब तक उनकी कार में कोई पुरुष नहीं बैठा है। पार्ट 2 में सिर्फ महिलाओं या 12 साल से कम उम्र के बच्चों के साथ सफर कर रही महिलाओं को ही छूट होगी। इस बार भी ऑड-ईवन के नियम तोड़ने पर दो हजार रुपए का जुर्माना लगेगा।

ऑड-ईवन फॉर्मूले के दूसरे राउंड के तहत स्कूली बच्चों को अपनी प्राइवेट कार से स्कूल छोड़ने वाले पैरेंट्स को छूट दी गई है। यह छूट तभी मिलेगी, जब कार में बच्चा स्कूल यूनिफॉर्म में बैठा हो। हालांकि, यह साफ नहीं है कि जब पैरेंट्स बच्चों को स्कूल छोड़ देंगे तो वापसी के वक्त उनकी पहचान कैसे हो पाएगी? दिल्ली सरकार की असली परीक्षा सोमवार से शुरू होगी, क्योंकि 15 तारीख को राम नवमी के चलते सरकारी छुट्टी है। इसके अगले दिन शनिवार है, इस दिन भी सरकारी दफ्तर बंद होते हैं। अगला दिन रविवार है और इस दिन ऑड-ईवन लागू नहीं होगा। पिछली बार 1 से 15 जनवरी तक चले ऑड-ईवन के फेज-वन के दौरान ज्यादातर स्कूलों में छुट्टी थी। लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। दिल्ली सरकार ने इस बार ऑड-ईवन को कामयाब बनाने के लिए स्कूल बसों को शामिल नहीं किया है।

इस बार इलेक्शन कमीशन और स्टेट इलेक्शन कमीशन के व्हीकल को भी छूट दी गई है। सीएम की गाड़ी सहित वीआईपी व्हीकल भी ऑड-ईवन के दायरे से बाहर रहेंगे। वीआईपी वाहनों में राष्‍ट्रपति, उप राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, लोकसभा स्पीकर, गवर्नर, केंद्रीय मंत्रियों के अलावा लोकसभा, राज्यसभा में विपक्ष के नेता और लोकायुक्त शामिल हैं। इमरजेंसी गाड़ियों जैसे एम्बुलेंस, पीसीआर, फायर ब्रिग्रेड की गाड़ियों पर भी कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा। सीएनजी से चलने वाले व्हीकल्स को छूट दी गई है, हालांकि इन गाड़ियों के ड्राइवर को छूट लेने के लिए स्टीकर दिखाना होगा। ऑड-ईवन का ये फॉर्मूला सुबह 8 बजे से रात 8 बजे लागू रहेगा। सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार से लोगों से ज्यादा से ज्यादा कार पुलिंग करने की गुजारिश की है।

ये है हेल्पलाइन नंबर: ऑड ईवन के दूसरे राउंड के लिए सीएम ने एक नए हेल्पलाइन नंबर 011-422400400 की भी घोषणा की है, जिस पर फोन करके ऑड-ईवन से जुड़े किसी भी सवाल का जवाब दिया जाएगा। इस नंबर पर अपनी परेशानी भी शेयर की जा सकती है।

मेट्रो के फेरे बढ़ेंगे: ऑड-ईवन पार्ट-2 के दौरान 200 मेट्रो ट्रेनें हर दिन 3248 फेरे लगाएंगी, जो मौजूदा फेरों से 56 राउंड ज्यादा होंगे। इसके अलावा 15 एक्सट्रा फीडर बसें लगाई जाएंगी। साथ ही तीन नए रूट पर भी मेट्रो सर्विस शुरु की गई है। पूरे 15 दिनों तक मेट्रो और बस लगभग 35 लाख लोगों के ट्रांसपोर्टेशन का जिम्मा उठाएंगी। ऑड-ईवन के दौरान मेट्रो स्टेशनों पर पैसेंजर को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए सीआईएसएफ की पांच एक्स्ट्रा कंपनियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा 15 दिनों के दौरान DMRC यूनिट में तैनात सभी CISF के इम्प्लॉइज की लीव कैंसिल कर दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App