दिल्ली में टीकाकरण का आंकड़ा हुआ दो करोड़ के पार, निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या सौ से कम

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि शनिवार को संक्रमण के 40 मामले आए, जबकि संक्रमण दर 0.07 फीसद दर्ज की गई। साथ ही किसी मरीज की मौत का कोई नया मामला दर्ज नहीं किया गया है।

Jansatta Editorial, Special Article
ड्राइव-थ्रू टीकाकरण शिविर में कोविड वैक्सीन लगवाती महिला। (पीटीआई फोटो)

देश की राष्ट्रीय राजधानी में अब तक कोरोना से बचाव के दो करोड़ से ज्यादा टीके लग चुके हैं। दिल्ली में निषिद्ध क्षेत्रों का आंकड़ा भी लगातार नीचे गिर रहा है। मामलों में आई कमी के बाद यह असर देखा गया है। अब निषिद्ध क्षेत्रों का आंकड़ा गिरकर 100 से भी नीचे आ गया है। सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक 11 में से दो जिले ऐसे हैं जिनमें अब एक भी ऐसा क्षेत्र नहीं रह गया है, जबकि दक्षिणी दिल्ली इस समय सबसे अधिक सील क्षेत्र वाला इलाका बना हुआ है।

शनिवार को दिल्ली में सील क्षेत्रों का आंकड़ा गिरकर 93 तक आ गया है। सभी जिलों की संयुक्त रिपोर्ट दिल्ली सरकार ने जारी की है। रिपोर्ट में 21 अक्तूबर तक की दिल्ली की स्थिति का हवाला दिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार मध्य दिल्ली व उत्तर पूर्वी दिल्ली केवल दो जिलों में एक भी निषिद्ध क्षेत्र नहीं है। दस से कम सील क्षेत्र वाले जिलों में पूर्व, नई दिल्ली, उत्तर, शाहदरा, दक्षिण पूर्व और पश्चिम जिला शामिल है। इन क्षेत्रों में अभी भी कोरोना के नियमों का पालन कराया जा रहा है। दिल्ली में इस समय 19 क्षेत्र ऐसे हैं जिन्हें सरकारी एंजसियां तुरंत खोल सकती है, जबकि 74 क्षेत्र ऐसे हैं जो अभी भी सक्रिय मामलों की चपेट में हैं।

21 जून 2020 के बाद बनाने पड़े 87 हजार से अधिक क्षेत्र : दिल्ली में कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने को छोटे-छोटे निषिद्ध क्षेत्र बनाकर वहां लोगों का आना-जाना प्रतिबंधित किया गया था। अब तक दिल्ली सरकार को 87,412 निषिद्ध क्षेत्रों को बनाने की जरूरत पड़ी है। अब तक कुल 87,451 क्षेत्रों को सील मुक्त किया जा चुका है।

देश में सबसे अधिक टीके दिल्ली में लगे
कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए दिल्ली में लगातार टीकाकरण की मुहिम चल रही है। देश में सबसे अधिक टीकाकरण करने वाले राज्यों की सूची में दिल्ली का स्थान अग्रिम सूची में शामिल है। राजधानी में अब तक दो करोड़ टीके लगे हैं। दिल्ली सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को कुल 19,97,22,63 लोगों को कोरोनारोधी लग चुका है। इन लोगों में से 12,86,81,71 लोगों ने पहली बार और 71,04,092 ने दूसरी बार यह टीका लगवाया है। बीते 24 घंटे में दिल्ली के अंदर 63,917 टीके लगे हैं। इनमें 22,740 ने पहली बार और 41,177 ने दूसरी बार यह टीका लगवाया है।

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि शनिवार को संक्रमण के 40 मामले आए जबकि संक्रमण दर 0.07 फीसद दर्ज की गई। साथ ही किसी मरीज की मौत का कोई नया मामला दर्ज नहीं किया गया है। नए मामलों के साथ ही दिल्ली में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 14,39,566 हो गई। आंकड़ों के अनुसार,अब तक 14.13 लाख से अधिक मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं वहीं मृतकों की कुल संख्या 25,091 है।

स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, अधिकारियों ने पिछले दिन कुल 61,142 से ज्यादा परीक्षण किए, जिनमें 44,836 आरटीपीसीआर जांच थी। दिल्ली में इस महीने कोरोना से अबतक चार मौतें हो चुकी हैं। इससे पहले 2,10 और 19 अक्तूबर को एक-एक रोगी की मौत हुई थी।

वहीं सितंबर में कोरोना वायरस संक्रमण से पांच लोगों की मौत हुई थी। दिल्ली में अब तक 25,091 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। इससे पहले शुक्रवार को दिल्ली में संक्रमण के 38 नए मामले सामने आए थे जबकि संक्रमण की दर 0.07 फीसद रही थी। वहीं, गुरुवार को राजधानी में 22 नए मामले सामने आए और संक्रमण की दर 0.05 फीसद थी।

0000000000000000000000000000000000000000

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
जम्मू-कश्मीर: घट रहा बाढ़ का पानी, लाखों लोग को अब भी मदद की दरकार
अपडेट