ताज़ा खबर
 

टैक्सी ड्राइवर से अमिताभ बच्चन का बिजनेस पार्टनर बन गया यह NRI, पुराने गुजराती ग्राहक की सिफारिश पर मिल गया पद्म श्री

इस साल के पद्म पुरस्‍कारों में गुजराती एनआरआई एचआर शाह को पद्मश्री देने का एलान किया गया। वे अमेरिका में 24/7 एशिया चैनल चलाते हैं।

Author February 5, 2017 9:40 AM
शाह की कहानी काफी दिलचस्‍प है। उन्‍होंने न्‍यूयॉर्क में लिमोजिन कैब ड्राइवर के रूप में कॅरियर शुरू किया था।

इस साल के पद्म पुरस्‍कारों में गुजराती एनआरआई एचआर शाह को पद्मश्री देने का एलान किया गया। वे अमेरिका में 24/7 एशिया चैनल चलाते हैं। शाह की कहानी काफी दिलचस्‍प है। उन्‍होंने न्‍यूयॉर्क में लिमोजिन कैब ड्राइवर के रूप में कॅरियर शुरू किया था। गुजरात के कई वीआईपी राजनेता उनकी गाड़ी से ही सफर किया करते थे। इसके चलते सालभर उनके पास भारत से लोग आते थे जिससे उनका काम अच्‍छा चलता था। एक्‍टर अमिताभ बच्‍चन भी न्‍यूयॉर्क में उनकी ही गाड़ी का उपयोग किया करते थे। बाद में दोनों के बीच दोस्‍ती हो गई। कुछ साल बाद दोनों ने मिलकर टीवी चैनल लॉन्‍च कर दिया। हालांकि अमिताभ इस वेंचर से अलग हो गए। अटकलें लगाई जाती हैं कि एचआर शाह के एक पूर्व गुजराती कस्‍टमर ने उन्‍हें पद्म सम्‍मान देने के लिए सिफारिश की थी।

विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान के लिए इस साल 89 हस्तियों को पद्म पुरस्कार के लिए चुना गया है। इनमें पद्म विभूषण पुरस्कार के लिए दिग्गज गायक केजे यसुदास, आध्यात्म के क्षेत्र में सद्गुरु जग्गी वसुदेव, सार्वजनिक क्षेत्र में योगदान के लिए राकांपा प्रमुख शरद पवार, भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी के नाम हैं। पद्म विभूषण के लिए नामित अन्य हस्तियों में विज्ञान एवं इंजीनियरिंग के क्षेत्र में योगदान के लिए प्रो. उडिपी रामचंद्रराव, सार्वजनिक क्षेत्र में योगदान के लिए भाजपा के वरिष्ठ नेता सुंदरलाल पटवा (मरणोपरांत) और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष पी ए संगमा (मरणोपरांत) को चुना गया।

पद्भभूषण के लिए सात हस्तियों को चुना गया है जिनमें कला एवं संगीत के क्षेत्र में विश्वमोहन भ्टट, साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में प्रो. डाक्टर देवी प्रसाद, चिकित्सा के क्षेत्र में तेहेम्टॉन उडवाडिया, अध्यात्म के क्षेत्र में रत्न सुंदर महाराज, योग के क्षेत्र में स्वामी निरंजन नंदा, साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में थाईलैंड की राजकुमारी महा चकरी सिरिनधोर्न और सी रामास्वामी (मरणोपरांत) के नाम शामिल हैं।

वहीं 75 लोगों को पद्मश्री के लिए चुना गया। इनमें विराट कोहली, दीपा कर्माकर, साक्षी मलिक, पीआर श्रीजेश जैसे खिलाडि़यों और बिरखा बहादुर लिम्बो मुरिंगला, इली अहमद, डा. नरेन्द्र कोहली,, प्रो. जी वेंकट सुबैया, एक्किथम अच्यूतन नम्बूदरी, काशी नाथ पंडिता, चामू कृष्णा शास्त्री जैसे साहित्‍यकारों व शिक्षाविदों को चुना गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App