ताज़ा खबर
 

NPR विवादः अरुंधति रॉय को मनोज तिवारी का खुला चैलेंज- फाड़ कर दिखाएं पासपोर्ट, उसमें लिखकर दिखाएं रंगा-बिल्ला?

तिवारी ने रॉय को चेतावनी दी कि वे अपने पासपोर्ट में रंगा बिल्ला लिखकर दें और अपना पासपोर्ट फाड़ कर दिखाएं।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर लेखिका और सामाजिक कार्यकर्ता अरुंधति रॉय को चैलेंज किया है। तिवारी ने रॉय को चेतावनी दी कि वे अपने पासपोर्ट में रंगा बिल्ला लिखकर दें और अपना पासपोर्ट फाड़ कर दिखाएं। तिवारी ने अरुंधति रॉय के उस बयान पर उन्हें चैलेंज किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि एनपीआर वाले लोग आएं तो अपना नाम रंगा-बिल्ला बता देन या कुंग-फू कुत्ता और पता 7 रेस कोर्स दे देना।

उन्होंने कहा ‘मैं अरुंधति रॉय जैसे लोगों को चुनौती देता हूं। अगर आपमें साहस है तो सबसे पहले अपना पासपोर्ट फाड़कर दिखाओ। सबसे पहले अपने पासपोर्ट पर रंगा-बिल्ला करके दिखाओ। ऐसे लोग खुद तो ऑरिजनल दस्तावेज लेकर चलते हैं मगर गरीब भाईयों भड़काते हैं कि अपने दस्तावेज नष्ट कर लें। उनका ऐसा कहना यही दर्शाता है कि वे देश के शत्रु हैं।’

वहीं कांग्रेस नेता अधीर रंजन के प्रधानमंत्री मोदी पर दिए बयान को लेकर भी मनोज तिवारी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। तिवारी ने कहा कि इन लोगों में दिल मे राम और श्याम के लिए कोई इज्जत नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश के लोगों में एनपीआर को लेकर भ्रम फैला रही है।

दरअसल चौधरी ने कहा है कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शआह गुमराह करने के मास्टर हैं। चौधरी ने पीएम मोदी और शाह को रामू और श्यामू तक कह डाला। उन्होंने कहा कि ये क्या कहते हैं और क्या नहीं, इसपर हमको ध्यान देना पड़ेगा।

मालूम हो कि संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और एनआरसी पर बवाल के बीच केंद्रीय कैबिनेट ने मंगलवार को एनपीआर को अपडेट करने के लिए मंगलवार को मंजूरी दे दी। जनगणना का काम 6 महीने तक चलेगा। इसमें तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: बहस में बोले पैनलिस्ट- नरेंद्र मोदी और झूठ आमने-सामने होंगे, तो झूठ पीछे हट जाएगा; BJP प्रवक्ता ने दिया ये जवाब
2 Good Governance Index: शीर्ष-5 में नहीं है PM नरेंद्र मोदी का गुजरात, यूपी-झारखंड का हाल और भी खराब; जानें किन्होंने किया टॉप
3 CAA को लेकर ऐहतियातन UP के 14 जिलों में इंटरनेट बंद, जुमे की नमाज के बाद अनहोनी की आशंका
ये पढ़ा क्या?
X