ताज़ा खबर
 

वेबसाइट और एप के जरिए शहीदों के परिवारों तक पहुंचेगी मदद, आज राजनाथ सिंह और अक्षय कुमार करेंगे उद्घाटन

किसी भी परिजन के बैंक खाते में सहायता राशि जमा कराने की अधिकतम सीमा 15 लाख रुपए तय की गयी है।

Author April 8, 2017 16:55 pm
बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार। (File Photo)

देश की सीमाओं और आंतरिक सुरक्षा में तैनात केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के जवानों के परिजनों को वेबपोर्टल और मोबाइल एप के जरिये आॅनलाइन आर्थिक मदद पहुंचाने की सुविधा कल से शुरू हो जायेगी। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ‘‘भारत के वीर’’ नामक पोर्टल और मोबाइल एप की शुरुआत करेंगे। अर्द्धसैनिक बल के जवानों की शहादत के बाद उनके परिवार को आर्थिक मदद पहुंचाने के लिए आॅनलाइन दान दिया जा सकेगा। गृह मंत्रालय ने हाल ही में अक्षय कुमार के सुझाव पर यह वेबसाइट और एप तैयार किया है। उन्होंने सरकार को परामर्श दिया था कि सीमा या आंतरिक सुरक्षा में तैनाती के दौरान शहीद हुए सशस्त्र बल के जवानों का आॅनलाइन ब्यौरा सार्वजनिक होना चाहिये। जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति शहीद जवान के परिवार को मदद मुहैया करा सके। वेबपोर्टल और मोबाइल एप पर शहीद जवानों की सूची और उनके परिजनों संपर्क कायम करने की पूरी जानकारी मौजूद रहेगी। इसमें शहीद के किसी एक परिजन का बैंक खाता नंबर भी शामिल होगा जिससे कोई भी दानदाता बैंक खाते में सीधे राशि जमा करा सके। वेबसाइट पर शहीद हुये सैनिक की शहादत से जुड़े अभियान की जानकारी भी दर्ज होगी।

किसी भी परिजन के बैंक खाते में सहायता राशि जमा कराने की अधिकतम सीमा 15 लाख रुपए तय की गयी है। यह सीमा पूरी होते ही संबद्ध शहीद के परिजनों की जानकारी वेबसाइट से स्वत: हट जायेगी। अधिकारी ने बताया कि सैन्य अभियानों में गंभीर रूप से घायल हुए जवानों की भी वेबसाइट पर जानकारी मुहैया कराने की भी योजना है। जिससे इन्हें इच्छुक दानदाता चिकित्सा सहायता भी मुहैया करा सकेंगे। इससे जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां वेबसाइट पर अपडेट करने के लिये बीएसएफ, सीआरपीएफ, आईटीबीपी, एसएसबी और एनएसजी के नोडल अफसर तैनात किये जायेंगे।

ज्ञात हो कि गत 11 मार्च को छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में शहीद हुये सीआरपीएफ के 12 जवानों के परिजनों को अक्षय कुमार ने नौ लाख रुपए की सहायता राशि दी थी। इसके बाद बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने भी प्रत्येक पीड़ित परिवार को 50 हजार रुपएदान में दिये थे।

केंद्र सरकार जवानों की शिकायत के लिए तैयार कर रही मोबाइल ऐप; BSF ने ड्यूटी पर बैन किए सेलफोन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App