scorecardresearch

अब कहीं से भी देख और सुन सकते हैं अदालती कार्यवाही

देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को संविधान पीठ की कार्यवाही का सीधा प्रसारण शुरू किया।

अब कहीं से भी देख और सुन सकते हैं अदालती कार्यवाही
सुप्रीम कोर्ट (फोटो सोर्स- द इंडियन एक्सप्रेस)

इसकी शुरुआत उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे विवाद से हुई। सोमवार को मुख्य न्यायाधीश उदय उमेश ललित की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा था कि शीर्ष अदालत के पास जल्द ही यूटयूब का उपयोग करने के बजाय अपनी कार्यवाही को सीधे प्रसारित करने का अपना मंच होगा।

प्रधान न्यायाधीश की अध्यक्षता में हाल ही में पूर्ण न्यायालय की बैठक में 27 सितंबर से संविधान पीठों की सुनवाई की कार्यवाही को ‘लाइव-स्ट्रीम’ करने का निर्णय किया गया था।अदालत के इस फैसले के बाद लोग बिना किसी परेशानी के अपने सेल फोन, लैपटाप और कंप्यूटर पर कार्यवाही को देख और रिकार्ड कर सकते हैं। इससे दुनिया में कहीं भी बैठा कोई भी व्यक्ति अदालती सुनवाई को सीधे देख और सुन सकता है।

सुप्रीम कोर्ट ने 26 अगस्त को एक वेबकास्ट पोर्टल के माध्यम से तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ की कार्यवाही का सीधा प्रसारण किया था। हालांकि यह एक औपचारिक कार्यवाही थी।मंगलवार को संविधान पीठ ने ईडब्लूएस आरक्षण, महाराष्ट्र का शिवसेना विवाद, दिल्ली सरकार-केंद्र सरकार के विवाद समेत कई मामलों को सुना। इस सुनवाई का सीधा प्रसारण किया गया।

इस प्रसारण का किसी भी तरीके से पुनर्प्रसारण नहीं किया जा सकेगा। अभी फिलहाल यह व्यवस्था प्रायोगिक दौर में है और आगे इसमें बदलाव भी संभव है। मंगलवार को कार्यवाही का प्रसारण सुप्रीम कोर्ट के पोर्टल के साथ-साथ यूटयूब पर भी किया गया।गौरतलब है कि 27 सितंबर 2018 को तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने संवैधानिक महत्व के मामलों की कार्यवाही के सीधे प्रसारण या ‘वेबकास्ट’ को लेकर ऐतिहासिक निर्णय लिया था।

यह व्यवस्था अभी प्रायोगिक दौर में

अदालत के इस फैसले के बाद लोग बिना किसी परेशानी के अपने सेल फोन, लैपटाप और कंप्यूटर पर कार्यवाही को देख और रिकार्ड कर सकते हैं। इससे दुनिया में कहीं भी बैठा कोई भी व्यक्ति अदालती सुनवाई को सीधे देख और सुन सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने 26 अगस्त को एक वेबकास्ट पोर्टल के माध्यम से तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ की कार्यवाही का सीधा प्रसारण किया था।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 06:45:43 am