ताज़ा खबर
 

शिवसेना का पीएम मोदी पर तंज, अब नवाज शरीफ दिखा रहे हैं 56 इंच का सीना

लेख में लिखा गया है, "उरी हमले के बाद कहा गया कि चीन पाकिस्तान पर बेहद क्रोधित है परंतु यह भी झूठ निकला। जबकि चीन ने पाकिस्तान को यह वचन दिया है कि तुम पर कोई भी विदेशी हमला होने की स्थिति में हम तुम्हारे साथ हैं।

शिवसेना का पीएम मोदी पर तंज, अब नवाज शरीफ दिखा रहे हैं 56 इंच का सीना (फोटो-PTI/ एस इरफान)

उरी हमले के बाद भारत की कूटनीतिक रणनीति को संदेहास्पद नजर से देखते हुए शिवसेना ने सोमवार अपने मुखपत्र सामना में सरकार पर जमकर निशाना साधा। ‘निरर्थक दुनियादारी’ शीर्षक से लिखे संपादकीय में शिवसेना ने लिखा है कि पाकिस्तान को अलग-थलग करने की रणनीति बनानेवाला भारत ही इस मसले पर पूरी दुनिया के सामने अलग-थलग पड़ता दिख रहा है। पार्टी ने लिखा है, “हिन्दुस्तान की पिछले दो-ढाई वर्षों से जो दुनियादारी जारी थी वह आखिर निरर्थक ही साबित हुई क्योंकि उरी पर भयंकर हमले के बाद कई देशों ने आतंकवाद पर जुबानी विरोध जताया फिर उस विरोध का अलग ही अर्थ भाजपा समर्थित सोशल मीडिया ने निकाला और पाकिस्तान के तन्हा साबित करने में दिल्ली सरकार किस तरह सफल रही यह जंघा पर थाप मारकर साबित करने का काम जोरदार तरीके से किया गया। उसमें पहली थाप यह कि रशिया ने पाकिस्तान के साथ युद्धाभ्यास को रोककर पाकिस्तान को थप्पड़ जड़ा। हालांकि, रशिया ने ऐसा कुछ भी नहीं किया बल्कि युद्धाभ्यास के लिए रशियन फौज पाकिस्तान में पहुंच चुकी है। यह हिन्दुस्तान के मुंह पर तमाचा है।”

लेख में लिखा गया है, “उरी हमले के बाद कहा गया कि चीन पाकिस्तान पर बेहद क्रोधित है परंतु यह भी झूठ निकला। जबकि चीन ने पाकिस्तान को यह वचन दिया है कि तुम पर कोई भी विदेशी हमला होने की स्थिति में हम तुम्हारे साथ हैं। इंडोनेशिया ने भी उरी हमले पर विरोध जताया लेकिन पाकिस्तान के साथ रक्षा संबंधी अनुबंध मान्य कर लिया। मतलब रिश्ते और दुनियादारी की बजाय सब अपना स्वार्थ और धंधा देख रहा है।” सामना में लिखा गया है, “1971 में बांग्लादेश युद्ध के समय रशिया ने सातवां जंगी बेड़ा भेजकर दोस्ती निभाई थी और इंदिरा गांधी की सरकार यानी हिन्दुस्तान की मदद की थी। वैसी दोस्ती निभाता हुआ आज कोई नजर नहीं आता। उरी हमले के बाद पाकिस्तान को अलग-थलग कहने की आप चाहे चीख-चीखकर जितनी बात कह लो लेकिन पाकिस्तान अलग-थलग नहीं हुआ है।”

केन्द्र सरकार की सहयोगी शिवसेना ने प्रधानमंत्री पर बड़ा निशाना साधते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री जी अब तो नवाज शरीफ 56 इंच का सीना दिखा रहा है। सामना में लिखा गया है, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का सीना अचानक 56 इंच फूल गया है क्या? और उनका सीना 56 इंच फूलने के पीछे उनकी मर्दानगी जिम्मेदार नहीं बल्कि हमारी दुम दबाने की आदत जिम्मेदार है।” शिवसेना ने केन्द्र सरकार से अपील की है कि पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब दिया जाना चाहिए, यह देश की मांग है।

Read Also-J&K: निर्दलीय विधायक राशिद को हिरासत में, कर रहे थे कश्मीर पर जनमत संग्रह की मांग

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App