ताज़ा खबर
 

अब राजस्‍थान में बहनों से गैंगरेप, मध्‍य प्रदेश में भी हैवानियत: भारत में रोज 91 रेप, द. अफ्रीका में सबसे ज्‍यादा

मध्य प्रदेश के खरगोन में एक नाबालिग बच्ची से गैंगरेप का मामला सामने आया है। खरगोन में बुधवार की रात तीन लोगों ने एक नाबालिग बच्ची का कथित बलात्कार किया। यहा जानकारी पुलिस ने दी।

Rape in Hathras, crime,NCRB की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में रोजाना 91 रेप होते हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर।

उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक दलित लड़की से दरिंदगी और मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि राजस्थान और मध्य प्रदेश से हैवानियत के दो नए मामले सामने आए हैं। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में रोजाना 91 रेप होते हैं। इस सूची में पहला नाम दक्षिण अफ्रीका का है।

मध्य प्रदेश के खरगोन में एक नाबालिग बच्ची से गैंगरेप का मामला सामने आया है। खरगोन में बुधवार की रात तीन लोगों ने एक नाबालिग बच्ची का कथित बलात्कार किया। यहा जानकारी पुलिस ने दी। पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने कहा, ‘नाबालिग और भाई एक झोपड़ी में रह रहे थे। तभी बुधवार की रात तीन व्यक्ति उनके पास पहुंचे और भाई पर हमला किया। गांववालों से मदद मांगने के लिए भाई वहां से निकल भागा। जिसके बाद तीन युवक लड़की को उठाकर खेत में ले गए, जहां उन सभी ने उसका रेप किया।

हैवानियत के बाद आरोपियों ने पीड़ित लड़की को सड़क किनारे फेंक दिया और वहां से भाग निकले। अभी आरोपी फरार हैं और पुलिस उनकी तलाश में जुटी है। फिलहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच जारी है।

वहीं राजस्थान से दो नाबालिग बहनों के साथ सामूहिक बलात्कार का एक मामला सामने आया है। आरोपी पहले दोनों लड़कियों को बहला फुसला कर अपने साथ ले गए। फिर तीन दिन तक उन्हें अलग-अलग शहरों में ले जाकर उनके साथ रेप किया गया। 18 से 21 सितंबर के बीच आरोपी युवक दोनों नाबालिग लड़कियों को कोटा, जयपुर और अजमेर ले गए। जहां दोनों के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आरोपियों ने नाबालिग लड़कियों को पुलिस के सामने कुछ बोलने पर जान से मारने की धमकी भी दी। नाबालिग लड़कियों का कहना की बारां के दो लड़के हमें 18 सितंबर को देर रात बहला-फुसला कर ले गए थे। इसके बाद कोटा, जयपुर और अजमेर में रेलवे स्टेशन के पास सुनसान जगहों पर दोनों लड़कों ओर उनके अन्य साथियों ने तीन दिन तक उनका रेप किया।

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, 2018 में देश भर में हर रोज औसतन 80 हत्याएं, 289 अपहरण और 91 बलात्कार किए गए थे।

बलात्कार भारत में महिलाओं के खिलाफ चौथा सबसे आम अपराध है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो की वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक 2018 में देश भर में 33,356 बलात्कार के मामले दर्ज किए गए थे। इनमें से, 31,320 यानि 93.9% मामलों में अपराधी पीड़ित के जानने वाले थे। वहीं 27.8 फीसदी पीड़ित नाबालिग थीं।

बता दें कि इससे पहले यूपी में लगातार एक के बाद एक रेप की दो-तीन घटनाएं सामने आईं हैं। हाथरस के बाद बलरामपुर में भी दलित लड़की के साथ रेप किया गया है, जिसके बाद मौत हो गई। इतना ही नहीं, बुलंदशहर में भी बुधवार को एक 14 साल की बच्ची के साथ रेप की घटना सामने आई।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कंगना के बाद भाजपा सांसद रवि किशन को वाई कैटेगरी सुरक्षा, ड्रग माफिया से जताया था खतरा
2 हाथरस के बाद यूपी के बलरामपुर में एक और दलित लड़की के साथ दुष्कर्म, पीड़िता ने तोड़ा दम
3 जस्टिस लिब्रहान बोले- पूरी साजिश थी बाबरी ढांचा ढहाना, मेरे पास रखे गए थे सारे सबूत, उमा भारती ने खुद भी माना था
यह पढ़ा क्या?
X