ताज़ा खबर
 

बैंकों में रविवार के साथ हर शनिवार भी छुट्टी रखने का विचार

अगर समय बढ़ता है तो ही दो छुट्टियां कर्मचारियों को दी जाएंगी।
Author नई दिल्ली | August 8, 2017 08:52 am
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

अगर आप कामकाजी हैं, शनिवार को आपको छुट्टी मिलती है और आप इस छुट्टी में अपना बैंक का काम निपटाने की सोचते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है। अब सभी बैंक हफ्ते में एक के बजाए दो छुट्टियां अपने कर्मचारियों को देने जा रहे हैं। शनिवार और रविवार दो दिन छुट्टी से बैंक कर्मचारियों को तो खुशी मिलेगी लेकिन जो कामकाजी लोग अपनी शनिवार की छुट्टी के दिन काम निपटाते हैं, उनके सामने बहुत बड़ी परेशानी खड़ी होने वाली है। एनबीटी के अनुसार बैंक यूनियन की हाल ही में हुई बैठकों में विचार किया गया है कि अब सभी कर्मचारी ज्यादा समय देकर लोगों के काम करने के लिए तैयार हैं लेकिन हफ्ते में उन्होंने दो छुट्टी की मांग रखी है।

नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स के उपाध्यक्ष अश्विनी राणा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अगर समय बढ़ता है तो ही दो छुट्टियां कर्मचारियों को दी जाएंगी। फिलहाल इन बैठकों में अभी कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। अभी केवल इस पर विचार किया जा रहा है। फिलहाल बैंक खुलने का समय सुबह10 बजे है और अगर हफ्ते में दो छुट्टी का फैसला लिया जाता है तो बैंक सुबह 9:30 बजे खुलेंगे और शाम को 4 अपने समय पर ही बंद होंगे। बेशक बैंकों के खुलने के समय में बदलाव किया जा रहा हो लेकिन अगर हम बैंकों की बात करें तो अक्सर देखा जाता है कि बैंक अपने तय समयनुसार नहीं खुलते हैं और अगर खुल भी जाएं तो बैंक कर्मचारी समय पर नहीं पहुंचते हैं। ऐसे में अगर दो छुट्टियों का प्रस्ताव पास होता है तो इसमें ग्राहकों को कोई फायदा नहीं है।

इस मामले को लेकर पहले दौर की बातचीत हो चुकी है और ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि इस महीने होने वाली दूसरे दौर की बातचीत में इस फैसले पर मुहर लग सकती है। वहीं सरकार भी बैंकों के इस विचार पर सैद्धांतिक रूप से सहमत है। सरकार का कहना है कि बैंक ग्राहकों की संख्या में दिन प्रतिदिन इजाफा हो रहा है इसलिए बैंक कर्मचारियों को ग्राहकों के काम के लिए ज्यादा समय देना चाहिए। सरकार का यह भी कहना है कि शनिवार को शेयर मार्केट बंद रहता है जिसके कारण कामकाज बंद रहता है इसलिए हफ्ते में दो छुट्टी बैंक कर्मचारियों को दी जा सकती है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. I
    inzeab
    Aug 9, 2017 at 9:14 am
    Ye writer kabhi bank main gaye nehi sayed. Bank wale kabhi time pe office atey nehi ye kisne bataya unko. Or isko kuch bhi malum hay kya bol raha hay . Apna ghar ka koyi bank main job karega to pata chalega kab sunday hay or kab monday or kab ti milta hay bank walo ko. ya sab bina samje kuch bhi bokte reheta hay.
    (0)(0)
    Reply
    1. Vandana Singh
      Aug 8, 2017 at 1:59 pm
      Aisa prateet hota h ki editor Sahab Ko bank walon se kuch jyada hi Dushmani h.. Kisi aise sarkari daftar ka Nam btaen jo smy se khula ho or karmchari 11 bj se pahle pahuchte ho or 4 bje k bad darshan dete ho...ankhe BND krk sapne me news likh dalte ho kya...ya sirf paisa kha kr hi likhte ho...
      (0)(0)
      Reply