ताज़ा खबर
 

North-East Election Result 2018: अमित शाह की प्रेस कॉन्फ्रेंस, जीत पर बोले- लेफ्ट भारत के किसी हिस्से के लिए राइट नहीं

North-East Election Result 2018: भाजपा अध्यक्ष ने कहा, 'कर्नाटक के लिए हमारा हौसला और बड़ा है। केरल और बंगाल का कार्यकर्ता बहुत खुश है। मोदी के आने के बाद उत्तरी-पूर्वी राज्यों में उन्होंने शांति के बहुत प्रयास किए है। यहां जनता विकास चाहती है। शांति चाहती है।'

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह। (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

North-East Election Result 2018: शनिवार (3 मार्च, 2018) को आए उत्तरी-पूर्वी राज्यों के रुझानों में भाजपा ने धमाकेदार बढ़त बनाई है। यहां भाजपा नीत एनडीए गठबंधन तीन राज्यों त्रिपुरा, मेघालय और नागालैण्ड में से दो राज्यों में सीधी सरकार बनाने की स्थिति में आ गया है। त्रिपुरा में तो भाजपा अपने दम पर सरकार बनाने की स्थिति में आ गई है। यहां पहली बार सरकार बनाने जा रही भाजपा ने लेफ्ट का किला ढहा दिया है। साल 1998 से यहां लेफ्ट का दबदबा रहा था। नागालैंड में भाजपा एनडीपीपी के समर्थन से बहुमत का आंकड़ा छूने के करीब पहुंच गई है। वहीं मेघालय में कांग्रेस रुझानों अभी तक सबसे बड़ी पार्टी बनी हुई है। रुझानों और कुछ सीटों पर आए परिणाम के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। उन्होंने कहा, ‘हमारे कार्यकर्ताओं ने डटकर कम्यूनिस्ट हिंसा का समना किया। त्रिपुरा की जनता ने जवाब दिया है। हमारी परंपरा के अनुसार हम साथी दल को साथ लेकर आगे बढ़ेंगे। नागालैंड में जो पहले एक फीसदी से थोड़ा ज्यादा वोट मिला और अब 15 सीटों पर 12 फीसदी से ज्यादा वोट मिला है, यहां एनडीए को 37 फीसदी वोट मिला है। मेघालय में बड़ी सफलता मिली, मेघालय में भी परिवर्तन देखने को मिला। यहां कांग्रेस को बहुमत नहीं मिला है।

उन्होंने आगे कहा, ‘तीनों राज्यों के चुनाव कर्नाटक चुनाव के फायदेमंद साबित होंगे। पहले कहा जाता था कि भाजपा शहरी राज्यों की पार्टी है लेकिन पार्टी ने इसका जवाब भी दिया है। बंगाल और केरल के कार्यकर्ता आज बहुत खुश हैं। त्रिपुरा की जीत ऐतिहासिक है। तीनों राज्यों में कांग्रेस नकारी गई। दो राज्यों में खाता नहीं खुला, कई सीटों पर जमानत जब्त हो गई कांग्रेस की। लेफ्ट भारत के किसी भी हिस्से के लिए राइट नहीं, यह सिद्ध हो चुका, पहले बंगाल और अब त्रिपुरा में इनकी विदाई हुई। उत्तर-पूर्व में हमारी जीत हुई। मोदी जी के नेतृत्व में जिस तरह सरकार चल रही है, दलितों के लिए काम, पिछड़े के लिए काम, यहीं नतीजा है हमारी पार्टी ने त्रिपुरा में 20 जनजातीय सीटों पर कब्जा किया है। बहुत बड़ी उपलब्धि है। अगले चुनाव के लिए हमारा हौसला बड़ा है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘कर्नाटक के लिए हमारा हौसला और बड़ा है। केरल और बंगाल का कार्यकर्ता बहुत खुश है। मोदी के आने के बाद उत्तरी-पूर्वी राज्यों में उन्होंने शांति के बहुत प्रयास किए है। यहां जनता विकास चाहती है। शांति चाहती है। बदले की भावना नहीं चाहते यह राज्य। देश में 21 राज्यों में भाजपा और इसके सहयोगी दलों की सरकार है। मोदी के नेतृत्व में हम आगे बड़े, सीमाओं को सुरक्षित किया। महंगाई पर लगाम लगाई। सरकार में आने के बाद बहुत सारे चुनाव जीते हैं। दो राज्य और शामिल हो गए। लोकतंत्र की सरकार में मोदी के नेतृत्व में हमने काम करके दिखाया है। पांच पीढ़ी से जो कार्यकर्ता जिस जीत की रहा देख रहा था वो आज मिली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App