एयरपोर्ट उद्घाटन के कार्यक्रम में भी योगी का सियासी दांव, बोले- जिन्ना के अनुयायियों ने गन्ने की मिठास कम कर दी

सीएम योगी ने कहा, ”आज देश के सामने एक बड़ा द्वंद है कि ये देश गन्ने की मिठास को नई उड़ान देगा या जिन्ना के अनुयायियों से दंगा करवाने की शरारत करेगा।”

UP CM Yogi Adityanath
नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान जनसभा को संबोधित करते सीएम योगी आदित्यनाथ (Source- ANI News UP Twitter)

जेवर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के शिलान्यास के मौके पर संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर तंज कसा।  ‘गन्ना बनाम जिन्ना’ के मुद्दे को उठाते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”आज देश के सामने एक बड़ा द्वंद है कि ये देश गन्ने की मिठास को नई उड़ान देगा या जिन्ना के अनुयायियों से दंगा करवाने की शरारत करेगा। यही तय करने मैं यहां आया हूं।”

जेवर में जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”यहां के किसानों ने कभी किसी कालखंड में गन्ना की मिठास को आग बढ़ाने का काम किया था। लेकिन कुछ लोगों ने इसकी मिठास को कड़वाहट में बदलकर यहां पर दंगों की एक श्रृंखला खड़ी कर दी थी।”

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”मैं उन सभी 7,000 से अधिक किसानों को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने बिना किसी विवाद के ‘नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट‘ के लिए जमीन दी है। यह केवल एयरपोर्ट नहीं है, बल्कि पश्चिमी यूपी के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करने वाली अनमोल कृति है।” 

बता दें कि हाल ही में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मोहम्मद अली जिन्ना की तुलना महात्मा गांधी, सरदार पटेल और पं. जवाहरलाल नेहरू से की थी और आजादी की लड़ाई में उनकी प्रमुख बताई थी। यूपी में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर जारी सियासत के बीच, अखिलेश यादव के इसी बयान पर आज सीएम योगी ने जेवर में तंज कसा। दरअसल, पश्चिम यूपी में ‘गन्ना’ और ‘जिन्ना’ दोनों ही मुद्दे को लेकर सियासत होती रही है। जिन्ना को लेकर दिए बयान पर अखिलेश यादव को भाजपा-कांग्रेस के हमले झेलने पड़े हैं। वहीं, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से जिन्ना की तस्वीर हटाने को लेकर भी आए दिन राजनीतिक उठापटक देखने को मिलती है। 

जिन्ना पर छिड़े इस विवाद के सवाल पर पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने भी प्रतिक्रिया दी है। पूर्व राज्यपाल ने कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से उनकी तस्वीर क्यों हटा दी जाए। बल्कि मैं तो कह रहा हूं फोटो को लार्ज करके लगा दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों को उनकी तस्वीर हटाना नहीं बल्कि उसे और बड़ा करके लगाना चाहिए।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
कल्याण सिंह के निधन पर यूपी में तीन दिन का राजकीय शोक, सभी दलों के राजनेताओं ने जताया दुख; कल नरौरा में होगा अंतिम संस्कारKalyan Singh, Former CM
अपडेट