कोई शाह, सुल्तान या सम्राट…’, हिंदी पर गृह मंत्री अमित शाह के बयान पर भड़के कमल हासन

उन्होंने ट्वीट करते हुए अमित शाह को आड़े हाथ लिया है। हासन ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें वो कह रहे हैं कि कोई शाह, सुल्तान या सम्राट अचानक वादा नहीं तोड़ सकता है। कोई भी नया कानून या स्कीम लाने से पहले आम लोगों से बात होनी चाहिए।

कमल हासन (फाइल फोटो)

हिंदी दिवस पर गृह मंत्री अमित शाह द्वारा हिंदी को लेकर दिए गए बयान के बाद सियासी घमासान रुका नहीं है। दक्षिण के राज्यों में शाह के बयान का विरोध जारी है। अब इस विरोध में दक्षिण के सुपर स्टार कमल हासन भी कूद गए हैं। अमित शाह ने हिंदी दिवस के मौके पर ट्वीट किया था कि हिंदी हमारी राजभाषा है, हमारे यहां कई भाषाएं बोली जाती हैं।लेकिन एक ऐसी भाषा होनी चाहिए जो दुनिया में देश का नाम बुलंद करे और पहचान को आगे बढ़ाए और हिंदी में ये सभी खूबियां हैं।

उनके इस बयान के बाद साउथ के सुपरस्टार और राजनेता कमल हासन भड़क गए। उन्होंने  ट्वीट करते हुए अमित शाह को आड़े हाथ लिया है। हासन ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें वो कह रहे हैं कि कोई शाह, सुल्तान या सम्राट अचानक वादा नहीं तोड़ सकता है। कोई भी नया कानून या स्कीम लाने से पहले आम लोगों से बात होनी चाहिए। जलीकट्टू के लिए जो हुआ वह सिर्फ एक प्रदर्शन था, लेकिन भाषा को बचाने के लिए जो होगा वह इससे बड़ा होगा। उन्होंने कहा कि कितने ऐसे देश हैं जो अपना राष्ट्रगान बांग्ला में गाते हैं। उन्होंने कहा कि अगर किसी एक भाषा को थोपते हैं तो इससे सभी को दिक्कत का सामना करना पड़ेगा।


केरल के मुख्यमंत्री विजयन अमित शाह के बयान को “बेतुका” बताया। एक फेसबुक पोस्ट में, विजयन ने कहा कि देश पहले से ही एक आम भाषा के विरोध के खिलाफ व्यापक विरोध देख रहा था, इस कदम को जोड़ने के लिए संघ परिवार ने भाषा के नाम पर एक नया युद्धक्षेत्र खोलने का संकेत दिया है। यह विचार कि केवल हिंदी ही देश को एकजुट कर सकती है गलत।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट