ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री नहीं बनने का कोई दुख नहीं है: आडवाणी

पटना। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नहीं बनने का उन्हें कोई दुख नहीं है क्योंकि सभी दलों से उन्हें मिला सम्मान काफी है और वह इससे ‘‘अभिभूत’’ हैं। आडवाणी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘देश का प्रधानमंत्री नहीं बनने का मुझे कोई दुख नहीं है। मुझे संसद में जो स्थान […]

Author November 14, 2014 6:44 PM
आयोजकों ने कहा है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी कार्यक्रम से जुड़ी समिति के कभी सदस्य नहीं रहे हैं, इसलिए उन्हें निमंत्रण नहीं दिया गया।

पटना। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नहीं बनने का उन्हें कोई दुख नहीं है क्योंकि सभी दलों से उन्हें मिला सम्मान काफी है और वह इससे ‘‘अभिभूत’’ हैं।

आडवाणी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘देश का प्रधानमंत्री नहीं बनने का मुझे कोई दुख नहीं है। मुझे संसद में जो स्थान मिला और सभी राजनीतिक दलों की तरफ से जो सम्मान मिला वह काफी है। सम्मान से मैं अभिभूत हूं। यह प्रधानमंत्री बनने से ज्यादा है।’’
87 वर्षीय वरिष्ठ नेता यहां पूर्व आईपीएस अधिकारी जे. के. सिन्हा द्वारा संचालित एक आवासीय विद्यालय का उद्घाटन करने आए थे। यह विद्यालय

मुसहर समुदाय के बालक-बालिकाओं के लिए है जो बिहार के सबसे पिछड़े समुदाय में आता है।
आडवाणी जून 2013 तक प्रधानमंत्री पद की दौड़ में थे जब गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को गोवा में हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया गया।

नरेन्द्र मोदी सरकार के प्रदर्शन के बारे में पूछने पर पूर्व उपप्रधानमंत्री ने कहा कि अभी इस सरकार के शासन संभाले काफी कम समय हुआ है इसलिए इसका आकलन करना उचित नहीं है। लेकिन उन्होंने कहा कि यह सरकार अच्छा काम कर रही है और अभी तक इसने कोई भी ‘‘आपत्तिजनक’’ काम नहीं किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App