no confidence motion debate in parliament pm modi laughed on bjd stand - VIDEO: अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश होने से पहले लोकसभा में हुआ कुछ ऐसा कि मुस्‍कुरा उठे पीएम मोदी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

VIDEO: अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश होने से पहले लोकसभा में हुआ कुछ ऐसा कि मुस्‍कुरा उठे पीएम मोदी

बीजद सासंद ने कहा कि कांग्रेस के पिछले 10 साल और मौजूदा मोदी सरकार के 4 साल के कार्यकाल में उड़ीसा के लोगों को कुछ हासिल नहीं हुआ। ऐसे में उनकी पार्टी अविश्वास प्रस्ताव के लिए होने वाली वोटिंग में हिस्सा नहीं लेगी।

विवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर लोगों से मुखातिब हुए।(express photo)

लोकसभा में आज अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा जारी है। इसी चर्चा के दौरान कुछ ऐसा हुआ कि पीएम मोदी समेत सदन में बैठे कई लोग मुस्कुरा उठे। दरअसल अविश्वास प्रस्ताव पर बहस की शुरुआत में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने विपक्षी पार्टियों को अपना पक्ष रखने के लिए दिए गए कम समय को लेकर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन से इसकी शिकायत की। तभी बीजू जनता दल के सांसद भृतहरि महताब उठ खड़े हुए और कहा कि कांग्रेस के 10 साल और मौजूदा मोदी सरकार के 4 साल के कार्यकाल में उड़ीसा के लोगों को कुछ हासिल नहीं हुआ। ऐसे में इस अविश्वास प्रस्ताव में हिस्सा लेने से उड़ीसा के लोगों का कोई भला नहीं होगा। इसलिए उनकी पार्टी अविश्वास प्रस्ताव के लिए होने वाली वोटिंग में हिस्सा नहीं लेगी।

इतना कहकर भृतहरि महताब समेत बीजद के सभी सांसद उठकर सदन से बाहर चले गए। अविश्वास प्रस्ताव पर बहस की शुरुआत में ही बीजद का इस तरह वोटिंग से वॉक आउट कर जाने से विपक्षी एकता को कड़ा झटका लगा। वहीं पीएम मोदी समेत सत्ता पक्ष के सांसद इस पर ठहाके लगाकर मुस्कुराते दिखाई दिए। गौरतलब है कि अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत करते हुए टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने केन्द्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। जयदेव गल्ला ने कहा कि मोदी सरकार ने आंध्र प्रदेश के साथ किया कोई भी वादा पूरा नहीं किया। यही वजह है कि टीडीपी, केन्द्र सरकार के पक्षपातपूर्ण रवैये, विश्वासघात के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आयी है।

जयदेव गल्ला ने कहा कि भाजपा ने टीडीपी के खिलाफ युद्ध का ऐलान किया है। यह लड़ाई बहुमत और नैतिकता के बीच है। जयदेव गल्ला ने इस दौरान कांग्रेस पर भी दक्षिण राज्यों के खिलाफ भेदभाव करने का आरोप लगाया। टीडीपी सांसद ने कहा कि आंध्र प्रदेश पर 1.3 लाख करोड़ रुपए का कर्ज हो चुका है। फंड के वितरण में भी राज्य के साथ धोखा किया गया है। फंड वितरण जनसंख्या के आधार पर किया गया है, वहीं रिसोर्स को लोकेशन के आधार पर वितरित कर दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App