ताज़ा खबर
 

भूत पर बिहार में सियासी भूचाल, राबड़ी बोलीं- साहब का भावार्थ समझ नहीं पाए नीतीश, 15 साल से रोज देख रहे भूत आइना, लालू भी हमलावर

राबड़ी देवी ने लिखा कि "'सीएम आवास में भूत छोड़कर आया हूं' साहब के इस वाक्य का भावार्थ नीतीश जी शायद समझ नहीं पाए। 15 वर्ष बाद भी नीतीश जी आवास में सुबह-सुबह आइना देखते हैं तो उन्हें भूत ही नजर आता है।"

बिहार में सीेएम आवास के भूत को लेकर सियासी घमासान छिड़ा। (फाइल फोटो)

बिहार के सीएम नीतीश कुमार के भूत वाले बयान पर राज्य में सियासी गहमागहमी बढ़ गई है। दरअसल नीतीश कुमार ने नए साल के अवसर पर मीडिया से बात करते हुए मजाकिया अंदाज में कहा था कि ‘लालू प्रसाद यादव ने एक बार उन्हें बताया था कि वह सीएम आवास में भूत छोड़कर आए हैं।’ अब नीतीश कुमार के इस खुलासे के बाद राबड़ी देवी और राजद मुखिया लालू प्रसाद यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

राबड़ी देवी ने ट्वीट कर लिखा कि “गरीबों के खेवनहार जब 2005 में सीएम आवास से निकले थे तब उसमें एक भूत घुसा था। “सीएम आवास में भूत छोड़कर आया हूं”। साहब के इस वाक्य का भावार्थ नीतीश जी शायद समझ नहीं पाए। 15 वर्ष बाद भी नीतीश जी आवास में सुबह-सुबह आइना देखते हैं तो उन्हें भूत ही नजर आता है।”

वहीं राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी राबड़ी देवी के ट्वीट को टैग करते हुए एक ट्वीट किया गया। जिसमें लिखा गया कि “इस बार जनता कसके वोट की झाड़-फूंक से इनके सारे भूत-प्रेत छुड़ा देगी। विकराल बेरोजगारी, महंगाई, धवस्त विधि व्यवस्था, बदहाल शिक्षा व्यवस्था और घूसखोरी जैसे सतही भूत-प्रेतों और डरावने मुद्दों की बात नहीं करके छलिया लोग जनता को भ्रमित करने के लिए भुतही बातें कर रहे हैं।”

बता दें कि कुछ साल पहले पटना के एक अणे मार्ग स्थित सीएम आवास में एक पीपल का पेड़ गिर गया था। नए साल पर जब नीतीश कुमार मीडिया से बात कर रहे थे तो एक पत्रकार ने याद दिलाया कि यह वह पीपल का पेड़ था, जिसमें लालू यादव ने भूत बांधने की बात कही थी। इस पर नीतीश कुमार ने कहा कि जब 2006 में वह सीएम आवास पहुंचे थे, तो यहां कि दीवारों में छोटी-छोटी पुड़िया रखी हुई थीं।

नीतीश ने बताया कि लालू यादव के रेल मंत्री रहते हुए एक बार उन्होंने हंसी मजाक के दौरान लालू प्रसाद यादव से उस बारे में चर्चा की तो लालू यादव ने भी हल्के फुल्के अंदाज में कहा था कि ‘वह सीएम आवास में भूत छोड़कर आए हैं।’ अब नीतीश कुमार के इस बयान पर ही राजनैतिक बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘गोडसे- सावरकर के बीच थे शारीरिक संबंध’ वाले बयान पर भड़की हिंदू महासभा, कहा- राहुल गांधी खुद समलैंगिक
2 Noida: साल 2019 में प्रतिदिन 2,000 लोगों का कटा चालान, वसूले गए 14 करोड़ से अधिक रुपए; राजस्व में हुई 532% की बढ़ोतरी
3 जिस योजना का नीतीश कर रहे घूम-घूमकर प्रचार, गणतंत्र दिवस परेड में उसकी झांकी से केंद्र का इनकार, बिहार को लगातार तीसरा झटका
ये पढ़ा क्या?
X