ताज़ा खबर
 

लालू से मिले नीतीश और शरद, ‘जातिगत जनगणना’ पर दिया समर्थन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिहार यात्रा के बाद रविवार शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव राजद प्रमुख लालू प्रसाद के आवास.

Author Updated: July 27, 2015 1:18 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बिहार यात्रा के बाद रविवार शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव राजद प्रमुख लालू प्रसाद के आवास पहुंचे और आपस में मंत्रणा की। बैठक के बाद नीतीश ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए उनकी इस मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘निरंतर होती रहती है।’

उन्होंने कहा, ‘‘आज दिन में शरद जी आए थे सामाजिक आर्थिक जातिगत जनगणना के आंकडे को जारी करने को लेकर लालू ही के उपवास कार्यक्रम में अपनी एकजुटता प्रदर्शित करने और समर्थन व्यक्त करने के लिए वहां गए और वह भी शरद जी के साथ उनकी इस मुहिम में समर्थन जताने के लिए उनके पास आए हैं। आपस में मिलना जुलना एक दूसरे के साथ, कभी लालू जी हमारे यहां जाते हैं और हम लालू जी के पास आते हैं यह सब चलता रहता है।’’

पाटलिपुत्र से भाजपा सांसद और सिने अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के बारे में नीतीश ने कहा कि राजनेता के अतिरिक्त बिहारी बाबू एक बहुत बड़े कलाकार भी हैं। उनके सभी के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं। हम लोगों को भी इतने बडे कलाकार पर नाज है। उनके साथ हम लोगों के संबंध व्यक्तिगत हैं। हम राजनीतिक चश्मे से इन चीजों को नहीं देखते।

इस अवसर राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ‘डीएनए’ में गड़बड़ी के बयान पर कहा कि प्रोटोकॉल के हिसाब से मुख्यमंत्री नीतीश जी ने उनका सम्मान और आदर किया लेकिन जिस तरह से उन्होंने घटिया भाषण दिया उससे लगता है कि प्रधानमंत्री ‘डिरेल’ कर गए हैं और यहां के छोट भैय्या नेता उनको ब्रीफ करके उनके सारे स्तर को गिराया है। ऐसी उम्मीद नहीं थी यह भी चर्चा हम लोगों ने की।

राजद सुप्रीमो ने दावा किया कि उन्होंने नीतीश कुमार के डीएनए की बातकर पूरे बिहार के लोगों के खून को प्रधानमंत्री ने अपमानित किया है जिसे हम लोगों के साथ बिहार की जनता ने बहुत गंभीरता से लिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 याकूब को फांसी के खिलाफ राष्ट्रपति से फरियाद
2 ज़मीन पर आम सहमति की उम्मीद में मोदी सरकार
3 ‘बिहार चुनाव से पहले अलग हो जाएंगे लालू और नीतीश’
ये पढ़ा क्या?
X