ताज़ा खबर
 

लालू-नीतीश विश्वासघाती, कैसे करे बिहार भरोसा: नरेंद्र मोदी

नीतीश कुमार और लालू प्रसाद को विश्वासघात करने वाले लोग बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरोप लगाया है कि ये दलितों, महादलितों और पिछड़ों के आरक्षण..

Author बेतिया/मोतीहारी/सीतामढ़ी | October 28, 2015 12:35 AM
चुनावी रैली को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फोटो)

मोदी ने मंगलवार को बिहार में ताबड़तोड़ चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि लालू और नीतीश विश्वासघात करने वाले लोग हैं। बिहार इन पर विश्वास नहीं कर सकता है। आरक्षण में भी चोरी करने के प्रयास किए जा रहे हैं। पिछले दरवाजे से खेल चल रहा है। नीतीश, लालू का तो पेशा रहा है यह। जैसे चारा हड़प लिया, वैसे ही आरक्षण में से पांच फीसद हड़पना चाहते हैं। दलितों, महादलितों, पिछड़ों, महापिछड़ों के आरक्षण में से पांच फीसद हिस्सा संप्रदाय के आधार पर देने की कोशिश हो रही है।

भ्रष्टाचार पर नीतीश और लालू को घेरते हुए मोदी ने कहा कि नीतीश सरकार के एक मंत्री और लालू की पार्टी के एक उम्मीदवार स्टिंग आपरेशन में लाखों रुपए लेते पकड़े गए। उनके खिलाफ क्या कार्रवाई की गई? नीतीश ने कहा था कि उनकी सरकार भ्रष्टाचारियों को पकड़ेगी, उनकी संपत्ति जब्त कर उससे स्कूल खोलेगी। संपत्ति जब्त करने का वादा पूरा करो नीतीश बाबू। कांग्रेस अध्यक्ष पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा- मैडम सोनियाजी, कैमरे के सामने जो लेन-देन हुआ है, उसके बारे में भी तो कुछ बोलिए।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback

महागठबंधन के दलों कांग्रेस, राजद और जद (एकी) पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि बिहार की जनता के पास बड़ा धैर्य है। वह देती है तो छप्पर फाड़ कर देती है और जब लेती है तो कहीं का नहीं छोड़ती। कांग्रेस पर बिहार की जनता ने 35 साल धैर्य के साथ भरोसा किया। उनकी सभी बातें मानीं। जब धैर्य जवाब दे गया तो पिछले 25 बरसों में उसे पैर रखने तक की जगह नहीं दी। राजद पर 15 साल भरोसा किया। लालू प्रसाद को सिर माथे पर बिठाया। उनकी पत्नी तक को सहन किया। लेकिन जब धीरज गया तो बिहार की धरती पर पैर नहीं रखने दिया।

नीतीश को आड़े हाथ लेते हुए उन्होंने कहा- इतना अहंकार, नीतीश बाबू? आपका अहंकार आपको खा जाएगा। आपके अहंकार के कारण बिहार बर्बाद हो गया। उन्होंने कहा- इस अहंकार के कारण नीतीश ने एक और पाप किया। जिस जंगलराज को बिहार की जनता ने उखाड़ फेंका था, उसे वह लालू के साथ जाकर दोबारा ले आए। नीतीश के तांत्रिक से मिलने पर उन्होंने सवाल किया- क्या जंतर मंतर से स्कूल खुलता है, खेत में पानी आता है, नौजवानों को रोजगार मिलता है, माता-बहनों को सुरक्षा मिलती है? मोदी ने जनता से सवाल किया कि 18वीं सदी की मानसिकता वाला कोई व्यक्ति क्या बिहार का विकास कर सकता है। वह बिहार के राजनीतिक परिदृश्य से ऐसे लोगों को चुन-चुन कर बाहर कर दे।

उन्होंने कहा- इस क्षेत्र का किसान देश का पेट भरने की ताकत रखता है लेकिन रोजगार के लिए उसे घर छोड़कर जाना पड़ रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा- हमारे लिए पांच साल सत्ता सुख का अवसर नहीं है। हम गरीब की सेवा के लिए आए हैं। इसमें मैं शरीर का कण-कण, समय का पल-पल खपा देना चाहता हूं।

क्यों गाया थ्री इडियट्स का गाना!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में तीन दलों कांग्रेस, जद (एकी) और राजद के महागठबंधन के संदर्भ में ‘थ्री इडियट्स’ का जिक्र करते हुए व्यंग्य किया कि सोमवार को नीतीश अपने पहले मुशायरे में ‘थ्री इडियट्स’ का गीत गा रहे थे। उन्होंने कहा- थ्री पार्टनर हैं यह तो पता था लेकिन थ्री इडियट्स का गाना क्यों गाया, इस पर आश्चर्य हुआ। नीतीश कुमार ने सोमवार को मोदी पर तंज कसते कुछ इस तरह से कहा था- बहती हवा सा था वो/गुजरात से आया था वो/कालाधन लाने वाला था वो/कहां गया उसे ढूंढ़ो…

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App