ताज़ा खबर
 

नीतीश कुमार को जेड प्लस सुरक्षा, नरेंद्र मोदी सरकार ने दी हरी झंडी

नीतीश के काफिले पर 12 जनवरी को बक्‍सर में हमला किया गया था। तब नीतीश अपनी विकास समीक्षा यात्रा के क्रम में बक्सर जिले के डुमरांव प्रखंड के नंदन गांव गए थे, जहां ग्रामीणों ने पत्थरबाजी की थी।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (PTI File Pic)

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को केंद्र सरकार की ओर से ‘जेड प्‍लस’ श्रेणी का सुरक्षा घेरा मुहैया कराई गई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने खुफिया एजेंसियों द्वारा मिले इनपुट्स की समीक्षा के बाद यह फैसला किया। इकॉनमिक टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में मंत्रालय की निजी सुरक्षा समीक्षा बैठक में इस पर अंतिम फैसला हुआ। माना जा रहा है कि पिछले दिनों बक्‍सर में नीतीश पर हुए हमले को देखते हुए यह फैसला किया गया। बिहार सीएम के पाास पहले से ‘जेड’ श्रेणी की सुरक्षा थी। इसके अलावा उनकी सुरक्षा के लिए राज्‍य के पुलिस कमांडो का एक अतिरिक्‍त घेरा भी साथ रहता है। ‘जेड प्‍लस’ श्रेणी के सुरक्षा घेरे वाले व्‍यक्ति को हर समय पैरामिलिट्री फोर्सेज के कम से कम 40 जवान घेरे रहते हैं। इस घेरे में नेशनल सिक्‍योरिटी गार्ड, सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स, इंडो तिब्‍बतन बॉर्डर पुलिस फोर्स और सेंट्रल इंडस्ट्रिल सिक्‍योरिटी फोर्स के जवान होते हैं। ‘जेड प्‍लस’ में सुरक्षा के पहले घेरे की जिम्मेदारी एनएसजी की होती है, दूसरी पंक्ति में एसपीजी के अधिकारी होते हैं।

नीतीश के काफिले पर 12 जनवरी को बक्‍सर में हमला किया गया था। तब नीतीश अपनी विकास समीक्षा यात्रा के क्रम में बक्सर जिले के डुमरांव प्रखंड के नंदन गांव गए थे, जहां ग्रामीणों ने पत्थरबाजी की थी। घटना में मुख्यमंत्री को चोट नहीं लगी थी, लेकिन एक दर्जन से ज्यादा सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे। इस पूरे मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App