ताज़ा खबर
 

NIA ने जारी की देश के दुश्मनों की लिस्ट, कुल 258 लोगों के हैं नाम

इस सूची को दो भागों में बाटा गया है जिसमें एक वो हैं जिनके खिलाफ इंटरपोल द्वारा रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया है जबकि दूसरे सूची वह है जिनकी सूचना देने के लिए एनआईए द्वारा इनाम रखा गया है

Author October 21, 2018 2:18 PM
लिस्ट जारी कर एनआईए ने लोगों से अपील भी की है। (फोटो सोर्स : NIA)

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने देश के दुश्मनों की एक लिस्ट जारी की है। काफी समय से इसका पता लगाने मे जुटी एनआईए को इसमें सफलता आखिरकार मिल ही गई। शनिवार को जारी की लिस्ट में ज्यादातर आतंकी पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से हैं। इस सूची में मुम्बई में हमले की साजिश रचने वाले आतंकी हाफिज सईद का भी नाम है।

इस संबंध में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने देश के लोगों से मदद मांगी है। एनआईए ने इसे लेकर ट्वीट करते हुए लिखा, ‘एनआईए को भगोड़ों का पता लगाने में आपकी मदद की ज़रूरत है। इन्हें लेकर अगर आप कोई जानकारी चाहते हैं तो कृपया 011-24368800 पर कॉल करें या help.nia@gov.in पर मेल करें। आपकी पहचान गुप्त रखी जाएगी।’ भारत को सुरक्षित बनाने में हमारी मदद करें। एनआईए ने मोस्ट वांटेड आतंकियों की सूची देखने के लिए एनआईए की वेबसाइट का लिंक भी दिया है।

इस सूची को दो भागों में बाटा गया है। इनमें 15 महिलाएं भी हैं। पहली सूची में वो हैं जिनके खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी की हुई है जबकि दूसरी लिस्ट में वह हैं जिन पर एनआईए ने इनाम रखा है। इस सूची में कश्मीरी आतंकियों के अलावा नागा और नक्सल उग्रवादियों को भी शामिल किया गया है।

लिस्ट में हाफिज सईद के अलावा जो नाम प्रमुख हैं उनमें आतंकी इलियास कश्मीरी, सैय्यद सलाउद्दीन, जकी उर रहमान लखवी सहित कई महिला आतंकी और नागा उग्रवादी तथा नक्सली भी शामिल हैं। इस लिस्ट को सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिकेसन, राष्ट्रीय जांच एजेंसी, और इंटेलिजेंस ब्यूरो ने मिलकर तैयार किया है।

खुफिया रिपोर्टों के मुताबिक, प्रतिबंधित माओवादी समूह के शीर्ष नेताओं में गणपति पर 2017 में बिहार में संदेह किया था, लेकिन उनके स्थान का पता लगाया नहीं जा सका। उनका संभावित उत्तराधिकारी नंबला केशव राव उर्फ बसवराज भी सूची में शामिल हैं और उनके सिर पर 10 लाख रुपये का इनाम है। अधिकारियों के मुताबिक बसवराज को आईईडी में एक विशेषज्ञ माना जाता है और उन्हें सैन्य रणनीति का अच्छा ज्ञान है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App