ताज़ा खबर
 

अगली सर्जिकल स्‍ट्राइक में उड़ा सकते हैं पाकिस्‍तान के परमाणु ठिकाने, वायुसेना प्रमुख ने दी चेतावनी

पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान को चनौती देते हुए एयर फोर्स चीफ बीएस धनोआ ने आज (5 अक्टूबर) कहा है कि एयरफोर्स शॉर्ट नोटिस पर भी युद्ध के लिए पूरी तरह तैयार है।

केंद्र सरकार ने एयर मार्शल बीरेंदर सिंह धनोआ को एयरफॉर्स का नया प्रमुख बनाया है।

पड़ोसी देश चीन और पाकिस्तान को चनौती देते हुए एयर फोर्स चीफ बीएस धनोआ ने आज (5 अक्टूबर) कहा है कि एयरफोर्स शॉर्ट नोटिस पर भी युद्ध के लिए पूरी तरह तैयार है। हम अन्य फोर्स के साथ मिलकर युद्ध लड़ने के लिए भी पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने आगे कहा, ‘अगर सरकार द्वारा एक और सर्जिकल स्ट्राइक का निर्णय लिया जाता है तो एयरफोर्स पाकिस्तान के न्यूक्लियर ठिकानों को तबाह करने में सक्षम है।’ पाकिस्तान के सामरिक परमाणु शस्त्रागार पर सवाल पूछने पर एयरफोर्स चीफ ने कहा कि एयरफोर्स के पास बॉर्डर के आसपास कहीं भी सटीक हमला करने की पूरी क्षमता है। ये बात उन्होंने नई दिल्ली प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। उन्होंने आगे कहा कि चीन के खिलाफ भी हमारी क्षमता पर्याप्त है। अगर दो फ्रंट पर लड़ाई होती है तो हमें 42 स्क्वाड्रन की जरूरत होगी। हमारे पास प्लान बी भी तैयार है। अभी तक हमने कभी दो फ्रंट पर एक साथ लड़ाई नहीं लड़ी है। चीन की सेना पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि चीन की एयरफोर्स हमेशा गर्मी के मौसम में ही ऑपरेशन करती है और सर्दी के समय पीछे हटने लगती है। लेकिन भारतीय वायु सेना बिल्कुल तैयार है, हमें रिस्पॉन्स के लिए कुछ ही मिनट चाहिए।

धनोआ ने कहा कि शांति के समय में भी जवानों की मौत होना काफी चिंताजनक है। हम एक्सिडेंट को कम करने के लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं। हमारे पास अभी कम संख्या में फाइटर हैं, लेकिन हम किसी भी तरह के टास्क को पूरा करने में सक्षम हैं। म्यांमार में हुए ऑपरेशन में IAF का कोई रोल नहीं था, क्योंकि हमें म्यांमार की ओर से किसी एक्शन की उम्मीद नहीं थी। लेकिन अगर किसी भी तरह के एयर डिफेंस की जरूरत रहती है तो हम हमेशा तैयार हैं। एयर चीफ मार्शल ने कहा कि एयरबेस पर किसी भी तरह की टेरर स्ट्राइक होने पर 6000 से ज्यादा एयर वॉरियर को ट्रेन किया गया है। चीनी सेना अभी चुंबी वैली में है, हमें उम्मीद है कि वो अभ्यास खत्म होने के बाद पीछे हट जाएंगी। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान ग्राउंड फोर्स का इस्तेमाल करने का निर्णय सरकार का था। एयरफोर्स किसी भी तरह के ऑपरेशन को करने के लिए बिल्कुल तैयार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App