ताज़ा खबर
 

पेगासस जासूसीः लाइव डिबेट में कपिल सिब्बल पर बोले संबित पात्रा- गड़बड़ी डेटा में नहीं, बेटा में है

संबित पात्रा ने कहा, "इसमें टेक्निकल जांच कराने की बात लिखी है। कल राहुल जी का नाम आया था। मैं तो कहूंगा कि राहुल जी पहले अपने फोन का टेक्निकल जांच कराएं, फिर इस आर्टिकल की फारेंसिक जांच कराएं। भारत में कई जगह इसकी जांच होती है।"

फोन टेपिंग को लेकर संसद में हुआ जोरदार हंगामा। सांकेतिक तस्वीर

न्यूज चैनल आजतक पर डिबेट में एंकर चित्रा त्रिपाठी के साथ भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा और कांग्रेस की प्रवक्ता रागिनी नायक के बीच जमकर बहस हुई। एंकर चित्रा त्रिपाठी ने कहा कि विपक्ष कह रहा है कि पेगेसस स्पाईवेयर केस में सरकार की दलीलों में दम नहीं है, इस मामले की जेपीसी से जांच होनी चाहिए।

इस पर संबित पात्रा ने कहा कि “जिस आर्टिकल की चर्चा हो रही है, वह भारत में वायर नामक पोर्टल ने छापा है। वायर यह खुद कहती है कि अगर आपका नाम इस लिस्ट के 300 नामों में शामिल है तो यह जरूरी नहीं कि आपका फोन हैक किया गया हो। हां हो सकता है कि आप एक पासिबल टारगेट हों और भविष्य में एक पासिबल टारगेट बन सकते हैं। इस आर्टिकल में कई जगह अंग्रेजी में हो सकता है और नहीं हो सकता है शब्द लिखे हैं। यानी यह आर्टिकल लिखने वाले ने ही काफी भ्रम फैला रहा है।” कहा अब आप ही बताइए जिस आर्टिकल में खुद ही इतना भ्रम हो क्या उसके आधार पर देश की संसद को दूसरे मुद्दों पर चर्चा करने से रोका जाना चाहिए? क्या देश के प्रधानमंत्री और सरकार पर इसकी वजह से लांछन लगाए जाने चाहिए?

संबित पात्रा ने कहा, “इसमें टेक्निकल जांच कराने की बात लिखी है। कल राहुल जी का नाम आया था। मैं तो कहूंगा कि राहुल जी पहले अपने फोन का टेक्निकल जांच कराएं, फिर इस आर्टिकल की फारेंसिक जांच कराएं। भारत में कई जगह इसकी जांच होती है।”

कपिल जी के प्रेस कांफ्रेंस की चर्चा चलने पर संबित पात्रा ने कहा कि, “देखिए कपिल सिब्बल जी खुद ही भ्रम फैला रहे हैं। कहां देवगौड़ा जी का नाम आया है। आप ही बताइए इस लिस्ट में कहीं देवगौड़ा जी का नाम आया है, कहीं कुमारस्वामी जी का नाम आया है। कहीं सिद्दारमैया जी का नाम आया है। अभी प्रेस कांफ्रेंस में कपिल सिब्बल जी ने कहा कि कुमार स्वामी जी, देवगौड़ा जी, सिद्दारमैया जी का फोन टैप कर लिया गया। कहां इस लिस्ट में नाम है। इसमें कुछ और नाम बता रहे हैं और सिब्बल जी कुछ और नाम बता रहे हैं। इसी के नाम से इलेक्शन जीता जा रहा है।”

उन्होंने कहा, “मैं आपको बताता हूं यह डेटा की गड़बड़ी नहीं है बेटा की गड़बड़ी है। बेटा से नहीं हो पा रहा है तो कहते हैं कि डेटा की गड़बड़ी है। कभी बोलते हैं कि ईवीएम खराब हो गया है तो कभी डेटा खराब हो गया है। बेटा ठीक हो जाएगा तो पार्टी ठीक हो जाएगी। गड़बड़ डेटा नहीं बेटा है, यह कपिल सिब्बल जी को बता दीजिए।”

Next Stories
1 RS में मोदी सरकार पर बरसे शिवसेना के संजय राउत, बोले- ताली-थाली बजाने के बाद खानी पड़ती है गाली
2 योग के दौरान फिसले पूर्व यूनियन मिनिस्टर ऑस्कर फर्नान्डिस, ICU में एडमिट
3 कांग्रेस नेता का मोदी सरकार पर निशाना, बोले- रामदेव की कोरोनिल लॉन्च करने वाले स्वास्थ्य मंत्री भी कम नहीं थे
ये पढ़ा क्या ?
X