ताज़ा खबर
 

कोरोना के दौरान दिल्ली के बार में रौनक? ऐंकर ने पूछा सवाल तो भड़क गए भाजपा प्रवक्ता, बोले- शराबबंदी करो

लगभग 2 करोड़ जनसंख्या वाली दिल्ली भारत के सबसे बड़े शराब बाजारों में से एक है। दिल्ली में शराब की उच्च मांग है और सरकार के लिए आय का एक बड़ा स्रोत है।

corona, delhiतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (Indian Express)।

न्यूज 24 पर डिबेट में एंकर संदीप चौधरी बीजेपी प्रवक्ता से पूछने लगे कि क्या व्यवस्था को पता नहीं होता कि ये सब हो रहा है? इनकी नाक के नीचे हो रहा है। इसका जवाब देते हुए बीजेपी प्रवक्ता कहने लगे कि पूरी सरकार को मालूम है कि क्या हो रहा है। केजरीवाल और सिसोदिया को मालूम है कि कहां कौन सी बार बाला नाच रही है?

एंकर पूछने लगे कि क्या दिल्ली पुलिस कमिश्नर को मालूम है? गृह मंत्रालय को मालूम है? बीजेपी नेता पूछने लगे कि मनीष सिसोदिया दिल्ली की आबकारी नीति को रद्द करेंगे क्या? ये लोग पानी के नल से पानी दे नहीं सकते और शराब की दुकानें देंगे। दिल्ली सरकार लोगों को सिखा रही है कि शराब कैसे पी जाए? एंकर पूछने लगे कि क्या सारे बीजेपी शासित राज्यों में शराबबंदी होगी? बीजेपी नेता कहने लगे कि पुलिस से क्या पूछा जाए जब दिल्ली सरकार लोगों को शराब पिलाने के लिए कानून बना रही है। एंकर और बीजेपी नेता भिड़ने लगे कि जिम्मेदारी पुलिस की है या दिल्ली सरकार की?

एंकर कहने लगे कि दिल्ली में पुलिस अगर सरकार के अधीन होती तब आप कहते कि पुलिस जिम्मेदार है? बीजेपी नेता कहने लगे कि दिल्ली सरकार को शराबबंदी करनी चाहिए। एंकर पूछने लगे कि आप अगले चुनाव में शराबबंदी करने का वादा करेंगे। यूपी में शराबबंदी कर दीजिए।

नेता कहने लगे कि दिल्ली पुलिस की जिम्मेदारी तय कर लेंगे पहले ये बताइए कि केजरीवाल शराब के ठेकों को दोगुना क्यों कर रहे हैं और देर रात शराब क्यों बेच रहे हैं।

एंकर पूछने लगे कि अगर आप पत्रकार होते तो क्या पुलिस की भूमिका पर सवाल नहीं करते? बीजेपी नेता ने कहा कि इजाजत तो दिल्ली सरकार ने दी है।

बता दें कि लगभग 2 करोड़ जनसंख्या वाली दिल्ली भारत के सबसे बड़े शराब बाजारों में से एक है। दिल्ली में शराब की उच्च मांग है और सरकार के लिए आय का एक बड़ा स्रोत है।

दिल्ली सरकार ने शराब की बिक्री और खपत पर केंद्रित गंभीर बदलावों की घोषणा करते हुए एक नई आबकारी नीति को मंजूरी दी। सबसे महत्वपूर्ण घोषणा शराब पीने के लिए न्यूनतम आयु 25 वर्ष से घटाकर 21 वर्ष करने की थी।

Next Stories
1 जब यमन में चलते थे चांदी के सिक्के, गलाकर बेचने लगे थे धीरूभाई अंबानी, नौकरी गई तो बदल गई किस्मत
2 पाक, PoK का जिक्र कर बोले BJP सांसद मोदी सरकार को है ‘भूलने की बीमारी’, जानें- क्या है पूरा माजरा?
3 देश में वैक्सीन की हो रही कमी, SII के अदार पूनावाला ने अमेरिका के सामने लगाई गुहार
ये पढ़ा क्या?
X