ताज़ा खबर
 

वैक्सीन पर एक्सपर्ट भी सवाल उठा रहे हैं, एंकर ने कहा तो बोले स्वामी रामदेव – बकवास पर ध्यान ना दें

आपको बता दें कि अभी कुछ ही दिनों पहले एक चैनल पर साक्षात्कार के दौरान स्वामी रामदेव ने कहा था कि वो कोरोना का वैक्सीन नहीं लगवाएंगे क्योंकि उन्हें कोरोना नहीं हो सकता है।

ramdev, coronaस्वामी रामदेव ने कहा कि कुछ लोग फिजूल की बात करते हैं। फोटो सोर्स – Indian Express

‘News24’ पर इंटरव्यू के दौरान जब एंकर मानक गुप्ता ने योगगुरु स्वामी रामदेव से पूछा कि ‘वैक्सीन को लेकर जो विवाद हो रहा है आपने उसके बारे में सुना तो होगा ही…कुछ एक्सपर्ट भी कि देसी वैक्सीन कोवैक्सिन का देसी ट्रायल थर्ड फेज का पूरा नहीं हुआ है, वो कह रहे हैं कि उनके आकड़ें भी जारी नहीं किये गये…ऐसे में लोगों के मन में सवाल तो होंगे ही कि यह सुरक्षित है या नहीं है। हालांकि सरकार ने इसे बैकअप के तौर पर ही मान्यता दी है। लेकिन अगर ट्रांसपैरेसी बरतने की मांग हो रही है तो इसमें क्या गलत है?’

इस सवाल के जवाब में स्वामी रामदेव ने कहा कि ‘कुछ लोग हर चीज में विवाद खड़ा करते हैं। इस बारे में जब हमारे वैज्ञानिक अपनी बात रख चुके हैं तो मुझे लगता है कि कुछ लोग जो राजनीतिक तौर पर और सामाजिक तौर पर बेरोजगारी के शिकार हो गए हैं वो इस समय फिजूल बातें करते हैं। कुछ लोग फिजूल हैं। तो ऐसे फिजूल लोगों की बातों के ऊपर हमें समय नहीं बर्बाद करना चाहिए। अपने पास इतने क्रिएटिव काम हैं। जैसै मैं सुबह 4 बजे से लेकर 10 बजे तक मैं बिना किसी पद और सैलरी के काम करता हूं, किसी भी तरह के बिना स्वार्थ के मैं काम कर रहा हूं, ऐसे ही काम करो ना। फिजूल लोग बैठ कर के बकवास करते रहते हैं उनकी बातों पर ध्यान देने की जरुरत नहीं है।’

आपको बता दें कि अभी कुछ ही दिनों पहले एक चैनल पर साक्षात्कार के दौरान स्वामी रामदेव ने कहा था कि वो कोरोना का वैक्सीन नहीं लगवाएंगे क्योंकि उन्हें कोरोना नहीं हो सकता है। उन्होंने इस साक्षात्कार में योग पर बल देते हुए लोगों से योग करने की अपील भी की थी।

बहरहाल भारत में दो वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद इस पर राजनीति शुरू हो गई, विपक्षी दलों ने परीक्षण के चरण को लेकर वैक्सीन पर सवाल उठाए हैं। इस बीच भारत बायोटेक के एमडी कृष्णा एला ने सफाई दी है उन्होंने कहा, ‘कुछ लोगों द्वारा वैक्सीन का राजनीतिकरण किया जा रहा है, मैं यह स्पष्ट रूप से बताना चाहता हूं कि मेरे परिवार का कोई भी सदस्य किसी भी राजनीतिक दल से नहीं जुड़ा है। इसलिए इस पर राजनीति नहीं होना चाहिए।’

Next Stories
1 किसान आंदोलन: जदयू प्रवक्ता के.सी. त्यागी बोले- सरकार से हमें भी है शिकायत
2 ‘यूके समेत 12 देशों में किया ट्रायल, हम 123 देशों के टच में हैं’, डेटा पर उठे सवाल तो बोले Bharat Biotech के एमडी- हमें तजुर्बा है
3 ‘हमारी सरकार है तो ये हवा हमारी है वैक्सीन हमारी है, आप पत्ते पहन कर जंगल में जाइए’, डिबेट में SP नेता से बोले संबित पात्रा
ये पढ़ा क्या?
X