ताज़ा खबर
 

VIDEO: शो में मुस्कुराने लगे मौलाना, भड़के एंकर सीट के पास जा बोले- दिल्ली जल रही है, आप मुंह खोल हंसे क्यों?

मुस्लिम पैनलिस्ट साजिद रशीदी ने सवाल किया कि अगर शाहरुख गोली चला रहा था तो पुलिस ने उसे गोली क्यों नहीं मारी चाहे वो हिंदू हो या मुस्लिम हो अगर वह दंगा कर रहा था तो उसे गोली मार देनी चाहिए थी।

टीवी डिबेट में साजिद रशीदी को एंकर ने फटकार लगा दी। (फाइल फोटो-ANI)

नागरिकता संशोधित कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसा भड़के के बाद अबतक दिल्ली में मंगलवार रात तक 13 लोगों की मौत हो गई थी। टीवी चैनल पर इस घटना को लेकर बहस का दौर जारी रहा। इसी कड़ी में एक टीवी चैनल पर बहस के दौरान एंकर और पैनलिस्ट के बीच तीखी बहस हो गई। पैनलिस्ट के मुस्कुराने पर टीवी एंकर भड़क गए और उनसे पूछने लगे कि आप मुंह खोलकर हंस क्यों रहे थे?

दरअसल, दिल्ली में हिंसा के दौरान एक शख्स फायरिंग करते हुए देखा गया था। इस शख्स की पहचान शाहरुख के तौर पर हुई। इसी बात को लेकर टीवी डिबेट में चर्चा हो रही थी। मुस्लिम पैनलिस्ट साजिद रशीदी ने सवाल किया कि अगर शाहरुख गोली चला रहा था तो पुलिस ने उसे गोली क्यों नहीं मारी चाहे वो हिंदू हो या मुस्लिम हो अगर वह दंगा कर रहा था तो उसे गोली मार देनी चाहिए थी।

इस दौरान एंकर ने कहा कि मौलाना साजिद रशीदी आप तो मुस्कुरा रहे थे जब शहीद रतनलाल के परिवार की फोटो मीडिया में चल रही थी। आपको शर्म आनी चाहिए। एंकर के यह कहने पर रशीदी ने कहा कि पुलिस ने गोली क्यों नहीं मारी इस बात का जवाब संबित पात्रा दें। ये लोग षडयंत्र कर रहे हैं। ये लोग हिंदू-मुस्लिम कर रहे हैं। इनको शर्म नहीं आती है। संबित पात्रा ने कहा कि इनका षडयंत्र था कि आर्टिकल 370 ना हटे, राम मंदिर ना बने , तीन तलाक बिल पास ना हो। इस पर मौलाना ने कहा कि हमें इन मुद्दों को लेकर कब प्रदर्शन किया?

Next Stories
1 दिल्ली हिंसाः स्कूल बंद, 13 मौतें, दंगाइयों को देखते ही गोली मारने का ऐलान, लोगों से घरों में रहने की अपील
2 Employees Pension Scheme के नए नियमों के तहत अब 15 साल बाद ही मिलेगी पूरी पेंशन! देखें योग्यता और बाकी पैमाने
3 दिल्ली हिंसाः मौजपुर में उपद्रवियों ने फूंकी गाड़ियां, 200 जख्मी, 11 केस दर्ज
ये पढ़ा क्या?
X