scorecardresearch

Vande Bharat Express: भैंसों के झुंड से टकराई वंदे भारत एक्सप्रेस, इंजन का अगला हिस्सा हुआ क्षतिग्रस्त

Vande Bharat Express: प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में मुंबई और गांधी नगर के बीच नई वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई थी।

Vande Bharat Express: भैंसों के झुंड से टकराई वंदे भारत एक्सप्रेस, इंजन का अगला हिस्सा हुआ क्षतिग्रस्त
Vande Bharat Express: वंदे भारत एक्सप्रेस भैंसों के झुंड से टकराई। (फोटो सोर्स- ANI)

Vande Bharat Express: नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन गुरुवार (6 अक्टूबर, 2022) को एक हादसे का शिकार हो गई। मुंबई से आते वक्त अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के नजदीक वटवा और मणिनगर स्टेशन के पास भैंसों के झुंड से टकरा गई। घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

घटना सुबह 11:18 मिनट पर हुई। इसमें वंदेभारत एक्सप्रेस ट्रेन के आगे का हिस्सा टूट गया। इसके बाद कुछ देर के लिए ट्रेन खड़ी रही है। रेलवे के कर्मियों ने ठीक किया। इसके बाद ट्रेन को 11:27 बजे रवाना किया गया है। बता दें, पीएम मोदी ने हाल ही में मुंबई और गांधी नगर के बीच नई वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई थी।

रेलवे के पीआरओ प्रदीप शर्मा ने बताया कि इस हादसे में ट्रेन को थोड़ा नुकसान हुआ है। ट्रेन के संचालन में किसी तरह का कोई असर नहीं पड़ा है। ट्रेन के आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है। उसको सही किया जाएगा। पश्चिम रेलवे (डब्ल्यूआर) ज़ोन ने 5 अक्टूबर से वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के यात्रा समय को और कम कर दिया है। ट्रेन गांधीनगर से मुंबई सेंट्रल में 20 मिनट पहले पहुंचेगी।

पीएम मोदी ने 30 सितंबर को दिखाई थी हरी झंडी

बता दें, 30 सितंबर, 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी नगर से अहमदाबाद के लिए वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई थी। इस दौरान पीएम मोदी ने खुद ट्रेन में सफर किया था। पीएम मोदी के साथ इस यात्रा में रेलवे परिवार के कई लोग, कुछ महिला उद्ममी और युवा भी इस यात्रा के दौरान पीएम मोदी के सहयात्री रहे थे।

वंदे भारत एक्सप्रेस की खासियत

यह ट्रेन देश की तीसरी सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। इस ट्रेन को पीएम मोदी के ‘मेक इन इंडिया’के तहत बनाया गया है। इस ट्रेन के सभी पार्ट्स स्वदेशी हैं जो कि भारत में ही बनाए गए हैं। वंदे भारत में 16 कोच हैं। ये ट्रेन एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। इस ट्रेन का इंजन सेल्फ प्रोपेल्ड है। इसके दरवाजे ऑटोमेटिक हैं। इसमें वातानुकूलित चेयरकार है, जो घूमने वाली है। ये चेयर 180 डिग्री तक घूम सकती है। इस ट्रेन की अधिकतम स्पीड 180 किमी प्रतिघंटे तक हो सकती है। ये महज 52 सेकेंड में ही 100 किमी प्रतिघंटे की स्पीड हासिल कर सकती है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 06-10-2022 at 03:12:38 pm