ताज़ा खबर
 

साल के पहले दिन कोहरे ने थामी रफ्तार, 400 ट्रेनें लेट, 15 रद्द, 300 उड़ानें प्रभावित

पटना राजधानी एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें 12 घंटे से अधिक देरी से चल रही हैं।

कई ट्रेनों को कैंसल किया गया है। कुछ ट्रेनों के रूट में भी बदलाव किया गया है।

नए साल के पहले दिन कोहरे ने रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया। इसकी वजह से करीब 400 ट्रेनें देरी से चल रही हैं, जबकि 15 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। घने कोहरे के कारण कम विजिविलिटी का असर हवाई जहाजों के उड़ानों पर भी पड़ा। नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक जनवरी को करीब 300 विमानों के उड़ानों में देरी हुई है। राष्ट्रीय राजधानी में पारा लुढ़क कर 5.7 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। सोमवार को अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के मुताबिक, आर्द्रता का स्तर भी 57 से 100 फीसदी के बीच रहा।

रेलवे के आंकड़े के अनुसार 31 दिसंबर की आधी रात की स्थिति के अनुसार 400 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें धुंध की वजह से धीमे चलने के कारण बहुत देरी से पहुंचीं। सोमवार की सुबह 6:30 बजे की स्थिति के अनुसार 56 ट्रेनें देरी से पहुंचीं, 20 का समय बदल दिया गया और 15 को रद्द कर दिया गया।

पटना राजधानी एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें 12 घंटे से अधिक देरी से पहुंचीं तो रीवा और मगध एक्सप्रेस 11 घंटे लेट थीं। रेलवे के अनुसार उसने फॉग पास डिवाइस (एफएसडी) लगाना शुरू कर दिया है। यह जीपीएस से संचालित होने वाला उपकरण है जो ड्राइवर को आगे आने वाले सिगनल के बारे में जानकारी दे सकता है। इधर, ट्रेनों के परिचालन में हुई देरी से यात्री परेशान हैं।

मीनाक्षी बडोला इस बार नये साल का जश्न पटना में अपनी बहन के साथ मनाना चाहती थीं। करीब दो दशक में पहली बार इस मौके पर पटना पहुंचने के लिए उन्होंने पूरी तैयारी भी कर ली थी लेकिन कोहरे की वजह से देरी से पहुंची ट्रेन ने उनकी यह इच्छा पूरी नहीं होने दी। मीनाक्षी (45) ने 30 दिसंबर को आनंद विहार टर्मिनल से पटना जाने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस में खुद की, अपनी पांच साल की बेटी और 71 वर्षीय सास की टिकटें बुक कराई थीं। उनका परिवार जब पटना पहुंचा तो नये साल का जश्न मनाने की बात वह अपने दिमाग से निकाल चुकी थीं।

गरीब रथ एक्सप्रेस ने तय समय से 10 घंटे देरी से सफर शुरू किया और ट्रेन 23 घंटे से भी अधिक समय देरी से यानी एक जनवरी को सुबह साढ़े चार बजे पटना पहुंची। मीनाक्षी और उनका परिवार इस तरह की स्थिति का सामना करने वाला अकेला परिवार नहीं था। 31 दिसंबर को कोहरे के कारण देशभर में करीब 400 ट्रेनें तय समय से काफी देरी से गंतव्यों पर पहुंचीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App