ताज़ा खबर
 

26 जनवरी को 3 रूट पर निकलेगी ट्रैक्टर परेड, किसानों को मंजूरी, योगेंद्र यादव बोले- दिल्ली नहीं दिल जीतने आ रहे हैं

वे लोग (किसान) दिल्ली को नहीं, बल्कि दिल जीतने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि यह ट्रैक्टर परेड पांच रूट पर निकलेगी। 

farmers, farmers protestकिसानों को ट्रैक्टर रैली निकालने की अनुमति मिल गई है। फोटो सोर्स – (Express Photo: Rana Simranjit SIngh)

गणतंत्र दिवस (26 जनवरी, 2021) पर हजारों की संख्या में किसान ट्रैक्टर परेड निकालेंगे। दिल्ली पुलिस से किसान नेताओं के रूट को मंजूरी मिल गई है। स्वराज अभियान के योगेंद्र यादव के हवाले से कुछ मीडिया चैनलों ने बताया कि पुलिस से उन लोगों को लिखित में अनुमति मिल गई है। वे लोग (किसान) दिल्ली को नहीं, बल्कि दिल जीतने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि यह ट्रैक्टर परेड तीन रूट पर निकलेगी।

खुफिया विभाग के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने बताया कि ट्रैक्टर रैली टिकरी, सिंघू और गाजीपुर बॉर्डर से दिल्ली में घुसेगी। सिंघू बॉर्डर से ट्रैक्टर रैली कंझावला, बवाना, औचंदी बॉर्डर, केएमपी एक्सप्रेस-वे से गुजरेगी और फिर सिंघू वापस लौट जाएगी। दीपेंद्र पाठक ने बताया कि ट्रैक्टर रैली टिकरी, सिंघू और गाजीपुर बॉर्डर से ट्रैक्टर रैली दिल्ली में घुसेगी। सिंघू बॉर्डर से ट्रैक्टर रैली कंझावला, बवाना, औचंदी बॉर्डर, केएमपी एक्सप्रेस-वे से गुजरेगी और फिर सिंघू वापस लौट जाएगी।

इधर योगेंद्र यादव ने हिंदी समाचार चैनल ABP News को बताया, “किसान दिल्ली नहीं, बल्कि दिल जीतने आ रहे हैं। जहां से शुरू परेड की शुरुआत करेंगे, वहीं पर वापस लौटेंगे। इसे शांतिपूर्ण तरीके से निकाला जाएगा।”परेड में ट्रैक्टरों की संख्या क्या होगी? इस पर यादव ने जवाब दिया- जो हम सोचते हैं, वह कम पड़ जाता है। कम से कम एक लाख ट्रैक्टर आ रहे हैं। अगर एक पंक्ति में खड़ा कर उनके अंदाजे के आंकलन करें, तो यहां (नई दिल्ली) से मुंबई तक ट्रैक्टरों की लाइन आएगी। इसलिए हम पांच जगहों से यह परेड निकालेंगे।

योगेंद्र यादव ने कहा कि ‘दिल्ली पुलिस की तरफ से आधिकारिक रूप से 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड निकालने की इजाज़त मिल गई है। जितने भी साथी अपनी ट्रोलियां लेकर बैठें है। मैं उनसे अपील करता हूं कि सिर्फ ट्रैक्टर दिल्ली के अंदर लेकर आएं, ट्रोलियां न लेकर आएं।’

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली पुलिस की तरफ से कहा गया है कि 26 जनवरी को सुरक्षा व्यवस्था प्रभावित ना हो। दिल्ली पुलिस ने कहा है कि तीन जगहों (सिंघु, टीकरी और गाजीपुर) से दिल्ली के अंदर कुछ किमी तक किसान आएं। बता दें कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। पिछले दो महीने से पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान दिल्ली के विभिन्न बॉर्डरों पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ डेरा डाले हुए हैं।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने सभी अधिकारियों को लिखित निर्देश जारी किए हैं कि 26 जनवरी के परेड इंतजामों के बाद किसान ट्रैक्टर रैली को लेकर अलर्ट रहें, परेड के बाद किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान लॉ एंड ऑर्डर व्यवस्था बनाए रखने के लिए अलर्ट रहना होगा। बता देें कि पंजाब में ‘आम आदमी पार्टी’ के सभी विधायक ट्रैक्टर के जरिए 25 जनवरी को दिल्ली पहुंचेंगे।

 

Next Stories
1 रामायण भेज MP के प्रोटेम स्पीकर ने CM ममता से कहा- विरोध छोड़ दो, वरना हो जाएगा जय श्रीराम
2 2 लाख से ज्यादा ट्रैक्टर परेड में लेंगे हिस्सा, जानिए 26 जनवरी पर क्या है किसानों का प्लान
3 कृषि कानूनों की आंच मुंबई तक! 21 जिलों के हजारों किसानों का मार्च; विदर्भ से विधवाएं भी डटीं दिल्ली के बॉर्डर्स पर
ये पढ़ा क्या?
X