ताज़ा खबर
 

कांग्रेस ने चार विधानसभा चुनावों पर की बड़ी बैठक, पर नहीं पहुंचे राहुल व सोनिया गांधी

एके एंटनी की अध्यक्षता वाली इस बैठक में पार्टी ट्रेजरर अहमद पटेल, पी चिदंबरम, जयराम रमेश, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, राज्यसभा में विपक्ष के उप नेता आनंद शर्मा, मल्लिकार्जुन खड़गे, संगठन के महासचिव केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला मौजूद रहे।

Author नई दिल्ली | Updated: June 13, 2019 10:44 AM
नई दिल्ली में बुधवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की बैठक हुई, पर इसमें कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी नहीं पहुंचीं। (फाइल फोटोः पीटीआई)

कांग्रेस ने चार राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बुधवार (12 जून, 2019) को बड़ी बैठक की, पर इसमें पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, उनकी मां और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका वाड्रा गांधी नहीं पहुंचे। दरअसल, महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड और जम्मू-कश्मीर में कुछ समय बाद विस चुनाव होने हैं, जिनमें बीजेपी का सामना करने के लिए और जमीनी स्तर पर अपनी स्थिति सुधारने के लिए पार्टी करेगी? इस पर इस बैठक में विचार-विमर्श किया गया।

बैठक के बाद कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से कहा कि राहुल ही आगे पार्टी का मार्गदर्शन करते रहेंगे। उनके मुताबिक, “एके एंटनी के मार्गदर्शन में आज यहां कांग्रेसी नेताओं की बैठक हुई। महाराष्ट्र, हरियाणा, झारखंड और जम्मू-कश्मीर में होने वाले चुनावों की तैयारियों पर चर्चा हुई है। हमने इसके अलावा और किसी चीज पर बात नहीं की।”

एके एंटनी की अध्यक्षता वाली इस बैठक में पार्टी ट्रेजरर अहमद पटेल, पी चिदंबरम, जयराम रमेश, राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, राज्यसभा में विपक्ष के उप नेता आनंद शर्मा, मल्लिकार्जुन खड़गे, संगठन के महासचिव केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला मौजूद रहे। हालांकि, राहुल, सोनिया और प्रियंका इस बैठक में नहीं आए। पत्रकारों ने इस बारे में जब सुरजेवाला से सवाल किया, तो उन्होंने जवाब देने से इन्कार कर दिया।

उन्होंने इसके साथ ही नए कार्यकारी पार्टी अध्यक्ष को नियुक्त किए जाने की अटकलों को भी सिरे से खारिज कर दिया। कहा, “मेरी समझ से तो इसका सवाल ही नहीं उठता है।” राजनीतिक जानकारों की मानें तो आम चुनाव के दौरान ही पार्टी के एक कोर समूह का गठन किया गया था। एक पार्टी नेता के हवाले से ‘द हिंदू’ की रिपोर्ट में बताया गया कि समिति के सदस्य कुछ कुछ समय के अंतराल पर अहम फैसलों और नीतियों के लिए मिलते रहेंगे।

वहीं, वेणुगोपाल आम चुनाव के बाद सभी राज्यों में पार्टी की स्थिति का हाल जानने के लिए सभी महासचिव प्रभारियों की आगामी दिनों में बैठक लेंगे। नाम न बताने की शर्त पर पार्टी नेताओं ने बताया कि एंटनी ने सुरजेवाला से यह पता लगाने के लिए कहा है कि 10 से 15 सदस्यीय पैनल वाली बात आखिर किसने लीक की?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CPM से छिन सकता है संसद भवन में मिला दफ्तर और राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा, राज्य सभा में नहीं दिखेंगे दिग्गज सीताराम येचुरी
2 SIT जांच में फंसा U-19 वर्ल्ड कप विजेता टीम का यह स्टार क्रिकेटर, चार्जशीट में बड़ा आरोप
3 National Hindi News, 13 June 2019 Updates: वायुसेना के AN 32 विमान में सवार रहे सभी 13 लोगों की मौत, क्रैश साइट पर पहुंची टीम
ये पढ़ा क्‍या!
X