ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता ने दिल्‍ली में लगवाए पोस्‍टर, लिखा- दंगा बाबू राजीव गांधी से भारत रत्‍न वापस लो

बग्गा ने इसके अलावा अपने टि्वटर अकाउंट पर इसी मामले से जुड़ा एक ट्वीट पिन कर (टॉप पर) के भी रखा था।

Rajiv Gandhi, Danga Babu, Former PM, Late Congress Leader, Bharat Ratna, Rajiv Gandhi Bharat Ratna, Demand, Controversy, Tajinder Pal Singh Bagga, BJP Spokesperson, Bhartiya Janta Party, 1984 Anti Sikh Riots, National News, Hindi Newsबीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने दो-तीन तरह के पोस्टर राजधानी में लगवाए हैं। (फोटोः टि्वटर/@TajinderBagga)

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के भारत रत्न को वापस लेने की मांग पर उपजे विवाद को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने नई दिल्ली में कुछ पोस्टर लगवाए। इन पर पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेसी नेता राजीव गांधी को ‘दंगा बाबू’ बताया गया था। लिखा था, ” हजारों सिखों के हत्यारे दंगा बाबू राजीव गांधी का भारत रत्न वापस लो।”आगे निवेदन किया गया था कि बीते दिनों अवॉर्ड वापसी में शामिल हुए साहित्यकार और फिल्मकार भी उनकी इस मांग में साथ दें।

वहीं, एक अन्य पोस्टर में बग्गा की तस्वीर के साथ लिखा था- शर्म करो केजरीवाल। 1984 के सिख नरसंहार पर राजीव गांधी भारत रत्न वापसी का प्रस्ताव वापस लेकर 1984 के नरसंहार में शहीद हुए सिखों का अपमान किया गया है।

बग्गा ने इसके अलावा अपने टि्वटर अकाउंट पर इसी मामले से जुड़ा एक ट्वीट पिन कर (टॉप पर) के भी रखा था। उसमें उन्होंने लिखा था, “बेशक अरविंद केजरीवाल ने 1984 के सिख शहीदों का अपमान करते हुए हत्यारे राजीव गांधी की भारत रत्न वापसी पर अपना प्रस्ताव वापस ले लिया हो, मगर यह लड़ाई अब मैं लड़ूंगा। मैंने इस संबंध में राष्ट्रपति को एक चिट्ठी लिखी है। मुझे इसमें आप सभी का समर्थन चाहिए।”

Rajiv Gandhi, Danga Babu, Former PM, Late Congress Leader, Bharat Ratna, Rajiv Gandhi Bharat Ratna, Demand, Controversy, Tajinder Pal Singh Bagga, BJP Spokesperson, Bhartiya Janta Party, 1984 Anti Sikh Riots, National News, Hindi News बीजेपी प्रवक्ता ने यही पोस्ट अपने टि्वटर हैंडल के होम पेज पर पिन कर के रखा है।

क्या है मामला?: दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार (21 दिसंबर) को दिवंगत पूर्व पीएम राजीव गांधी को लेकर एक प्रस्ताव पास हुआ, जिसमें उनसे भारत रत्न वापस लेने की मांग की गई। हालांकि, आम आदमी पार्टी (आप) ने बाद में खुद को इस मसले से अलग कर लिया। पार्टी ने कहा कि मूल प्रस्ताव में पूर्व पीएम का नाम नहीं है। उनका नाम संशोधन के रूप में रखा गया था। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भी साफ किया कि आप का राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने का कोई विचार नहीं है।

वहीं, पंजाब में विपक्षी शिरोमणि अकाली दल ने भी शनिवार को पूर्व पीएम से भारत रत्न वापस लेने की मांग की। अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि राजीव गांधी के भारत रत्न वापसी से जुड़े प्रस्ताव के पारित होने के कुछ देर बाद आप पलट गई। आप और अरविंद केजरीवाल इससे बेनकाब हो गए हैं।

Next Stories
1 अकबर के किले में सरस्‍वती, ऋषि भारद्वाज की प्रतिमा लगवाएंगे योगी, कर दिया ऐलान
2 पीएम के आर्थिक सलाहकार परिषद की सदस्‍य बोलीं- किसानों से दोगुना गृहणियां कर रहीं आत्‍महत्‍या
3 पिछली बार सुप्रीम कोर्ट ने लगाया था 50 हजार जुर्माना, वकील एमएल शर्मा ने फिर लगाई पीआईएल
ये पढ़ा क्या?
X