ताज़ा खबर
 

कोरोना का दंश: यूपी, बिहार में 800 फीसद से ज्यादा बढ़े मामले

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में दो सप्ताह की अवधि में 363 फीसद मामले बढ़े हैं। दिल्ली में 24 मार्च को 1,101 और सात अप्रैल को 5,100 नए मामले दर्ज किए गए। दिल्ली में अब तक 1.54 करोड़ कोरोना जांच हो चुकी हैं और यहां संक्रमण दर 4.60 फीसद है।

covidगुजरात सरकार ने राज्य में एंट्री के लिए कोविड टेस्ट को अनिवार्य कर दिया है। (Indian Express)।

देश में कोरोना विषाणु संक्रमण के नए मामलों में बहुत तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। सबसे अधिक संक्रमण के मामले महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, मध्य प्रदेश, गुजरात और राजस्थान में दर्ज किए जा रहे हैं। पिछले दो सप्ताह की बात करें तो उत्तर प्रदेश में 831 फीसद और बिहार में 872 फीसद नए मामले बढ़े हैं।

उत्तर प्रदेश में 24 मार्च को सिर्फ 633 नए मामले सामने आए थे। वहीं, सात अप्रैल को 5,895 नए मामले दर्ज किए गए। इन दो सप्ताह में उत्तर प्रदेश में 780 फीसद नए मामले बढ़े। उत्तर प्रदेश में नौ अप्रैल को 9,695 नए मामले दर्ज किए गए। उत्तर प्रदेश में अब तक 3.63 करोड़ जांच हो चुकी हैं और संक्रमण दर 1.83 फीसद है। बिहार में इस अवधि में 872 फीसद नए मामले बढ़े। यहां 24 मार्च को केवल 111 मामले दर्ज किए गए थे जबकि सात अप्रैल को 1,080 नए मामले सामने आए। बिहार में अब तक 2.24 करोड़ जांच हुई हैं और संक्रमण दर 1.13 फीसद है।

चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल में 24 मार्च से 7 अप्रैल के बीच नए मामले 409 फीसद बढ़े। यहां 24 मार्च को 404 मामले सामने आए थे जबकि सात अप्रैल को 2,058 नए मामले दर्ज किए गए। पश्चिम बंगाल में 94 लाख कोरोना जांच हुई हैं और संक्रमण दर 6.43 फीसद है। देश में सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र में दर्ज किए जा रहे हैं। दो सप्ताह के दौरान राज्य में 78 फीसद नए मामले बढ़े हैं। महाराष्ट्र में अब तक 2.16 करोड़ कोरोना जांच हुई हैं और संक्रमण दर 15.2 फीसद है। देश में सबसे अधिक संक्रमण दर महाराष्ट्र की ही है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में दो सप्ताह की अवधि में 363 फीसद मामले बढ़े हैं। दिल्ली में 24 मार्च को 1,101 और सात अप्रैल को 5,100 नए मामले दर्ज किए गए। दिल्ली में अब तक 1.54 करोड़ कोरोना जांच हो चुकी हैं और यहां संक्रमण दर 4.60 फीसद है। हरियाणा में 134 फीसद नए मामले बढ़े हैं। हरियाणा में 24 मार्च को 895 और सात अप्रैल को 2,099 नए मामले दर्ज किए गए। हरियाणा में अब तक 65 लाख जांच हुई हैं और राज्य में 4.65 फीसद संक्रमण दर है।

पंजाब की बात करें तो 24 मार्च से सात अप्रैल के बीच यहां सिर्फ 28 फीसद नए मामले बढ़े हैं। 24 मार्च को 2,254 और सात अप्रैल को 2,905 नए मामले दर्ज किए गए। पंजाब में अब तक 63 लाख जांच हुई हैं और 4.25 फीसद संक्रमण दर है। केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में इस अवधि में 49 फीसद नए मामले बढ़े हैं। यहां 24 मार्च को 214 और सात अप्रैल को 319 नए मामले दर्ज किए गए।

पांच राज्यों में अब तक सर्वाधिक मामले : देश में कोरोना विषाणु संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अब तक पांच राज्यों में सर्वाधिक मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, गुजरात, राजस्थान और पंजाब शामिल हैं। नौ अप्रैल को छत्तीसगढ़ में 11,447, उत्तर प्रदेश में 9,695, गुजरात में 4,541, राजस्थान में 3,970 और पंजाब में 3,459 नए मामले दर्ज किए गए जो इन राज्यों के अब तक के सर्वाधिक मामले हैं।

Next Stories
1 जगन्नाथ स्वामी पर हुईं गलत बातें तो पूर्व मुख्यमंत्री ने लिखी थी किताब, हिंदी में विमोचन कर राजनीतिक फायदा तलाश रही बीजेपी?
2 लोगों की जान खतरे में तो क्यों कड़ा फैसला नहीं लेते पीएम? प्रभु चावला ने पूछा सवाल तो हर्षवर्धन करने लगे पीएम मोदी की तारीफ
3 जब ऐंकर ने रामदेव से पूछा, खुद प्रचार करके मॉडल का भी पैसा बचा लिया? योगगुरु ने बताया खर्च
ये पढ़ा क्या?
X