ताज़ा खबर
 

1000 स्‍टेशनों पर लगेंगे 35000 CCTV, मोदी की दिलचस्‍पी के बाद रिकॉर्ड वक्‍त में रेलवे ने ऐसेे तैयार किया प्‍लान

रेलवे ने रिकॉर्ड टाइम में एक प्‍लान तैयार किया। इसमें केंद्र सरकार के निर्भया फंड को इस्‍तेमाल करने का फैसला किया गया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

महिलाओं को रेल यात्रा के दौरान सुरक्षित महसूस कराने के लिए मोदी सरकार एक और कदम उठाने जा रही है। रेलवे देश के 1000 रेलवे स्‍टेशनों के हर कोने को 35000 सीसीटीवी कैमरे से लैस करने की योजना बना रहा है। यह इंडियन रेलवेज में सबसे बड़ा सिक्‍युरिटी सर्विलांस सिस्‍टम होगा। एक बार यह काम पूरा होने के बाद स्‍टेशनों के ‘हर हिस्‍से पर आप सीसीटीवी कैमरे की नजर में हैं’ जैसे बोर्ड नजर आएंगे।

READ ALSO: अब छोटे बच्चों का सफर सुहाना बनाएगा रेलवे, आज से ट्रेन में मिलेगा गर्म दूध और चॉकलेट

बीते महीने प्रधानमंत्री कार्यालय में एक अहम बैठक हुई। रेलवे के अधिकारियों को बताया गया कि पीएम चाहते हैं कि रेलवे को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया जाए। इसके बाद, रेलवे ने रिकॉर्ड टाइम में एक प्‍लान तैयार किया। इसमें केंद्र सरकार के निर्भया फंड को इस्‍तेमाल करने का फैसला किया गया है। इस प्रोजेक्‍ट की अहमियत को समझते हुए वित्‍त मंत्रालय ने भी मीटिंग के तीन दिन बाद ही रिकॉर्ड समय में प्रोजेक्‍ट को मंजूरी दे दी। साथ ही इस वित्‍त वर्ष के लिए 200 करोड़ रुपए जारी कर दिया ताकि काम तुरंत शुरू हो सके। बाकी की रकम अगले साल दी जाएगी। सूत्रों ने द इंडियन एक्‍सप्रेस से इस बात की पुष्‍टि‍ की कि रेलवे ने इस काम को अपनी सर्वोच्‍च प्राथमिकता में रखा है। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन खुद इस प्रोजेक्‍ट पर नजर रख रहे हैं।

READ ALSO: नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर फाइव स्‍टार सुविधाओं वाला वेटिंग लाउंज शुरू, देखिए अंदर के PHOTOS

मोदी ने यह भी कहा है कि सीसीटीवी का इस्‍तेमाल सुरक्षा के अलावा साफ सफाई बरकरार रखने के मकसद से भी किया जाए। इसे हकीकत बनाने के लिए रेलवे फ्रेमवर्क तैयार कर रहा है। रेलवे ने 1 हजार स्‍टेशनों की लिस्‍ट तैयार की है। इनमें से 981से शुरुआत की जाएगी। रेलवे प्रशासन ने विभिन्‍न जोन्‍स से पूछा है कि इस साल इस काम के लिए कितने पैसे खर्च होंगे।

रेलवे की योजना है कि हर स्‍टेशन पर कम से कम 35 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं और इसकी फीड को डिविजनल हेडक्‍वार्टर स्‍थ‍ित सर्वर से जोड़ा जाए। इस रिकॉर्डिंग को 30 दिन तक सेव करके रखा जाएगा। कैमरों की तादाद इस तरह से रखी जाएगी कि स्‍टेशन का हर कोना इसकी जद में आ जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App